घर में होंगी ये 11 वस्तुएं तो हो जाएंगे दुखी और कर्जदार

अनिरुद्ध जोशी|
घर की वस्तुएं और चित्र हमारे मन पर सकारात्मक या नकारात्मक प्रभाव डालते हैं। जैसी मति वैसी गति और वैसी ही घटना। जानिए क्या-क्या नहीं रखना चाहिए घर में?

1. टूटी-फूटी वस्तुएं
टूटे-फूटे बर्तन, दर्पण, इलेक्ट्रॉनिक सामान, तस्वीर, टूटी या खुली अलमारी, सोफा, कुर्सी और टेबल, पलंग, घड़ी, दीपक, झाडू, मग, कप गमले आदि सामान घर में नहीं रखें। इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा का निर्माण होता है और व्यक्ति मानसिक परेशानियां झेलता है।

2. ये तस्वीरें न रखें
महाभारत युद्ध का चित्र, नटराज की मूर्ति, ताजमहल का चित्र, डूबती हुई नाव या जहाज, फव्वारे, जंगली जानवरों के चित्र और कांटेदार पौधों के चित्र घर में नहीं लगाना चाहिए। लगातार इन चित्रों को देखते रहने से नकारात्मक भावों का ही विकास होता है।
3. फटे-पुराने कपड़े की पोटली
फटे-पुराने कपड़ों या चादरों से भी घर में नकारात्मक मानसिकता और ऊर्जा का निर्माण होता है। इस तरह के वस्त्रों को किसी को दान कर देना चाहिए या इसका किसी और काम में उपयोग करना चाहिए।

4. कबाड़
घर में एक कबाड़खाना अलग से होना चाहिए। अच्छा तो यही है कि अटाला या कबाड़ जमा ही न करें। पुराने या टूटे हुए जूते-चप्पल आपको आगे बढ़ने से रोक देते हैं। घर की छत पर तो कबाड़ जमा बिलकुल न करें।
5. पर्स या तिजोरी
पर्स फटा और तिजोरी टूटी हुई न हो। पर्स या तिजोरी में धार्मिक वस्तुएं रखें जिनसे कि सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। पर्स में रुपए और तिजोरी में रुपए के अलावा सोना, चांदी, पैसे के लेन-देन व पूंजी निवेश संबंधी कागजात रख सकते हैं।
6. मूर्ति या चित्र
देवी-देवताओं की फटी या पुरानी तस्वीरें अथवा खंडित हुईं मूर्तियां घर में न रखें। देवी-देवताओं के ढेर सारे चित्र या मूर्तियां घर में न रखें। चित्र या मूर्तियों की संख्या और स्थान निश्चित होते हैं।

7. सजावटी वस्तुएं
नकली या कांटेदार पौधे, पुरानी या फालतू चीजों से बनीं कलाकृतियां, सूखे ठूंठ, मानवरहित उजाड़ शहर, बिखरा हुआ घर, सूखा पहाड़ या अन्य कलाकृतियां, पेंटिंग या तस्वीर सभी नकारात्मक ऊर्जा पैदा करती हैं।
8. मकड़ी का जाला
घर में बनने वाले मकड़ी के जाले तुरंत हटा दें। इनसे आपके अच्छे दिन बुरे दिनों में बदल सकते हैं, क्योंकि मकड़ी जाला रहने के लिए नहीं शिकार को फंसाने के लिए बनाती है।

9. प्लास्टिक का सामान
आजकल प्लास्टिक के बर्तनों आदि का चलन बढ़ गया है। प्लास्टिक की अधिकता से घर में नकारात्मक ऊर्जा का निर्माण तो होता ही है, यह स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक है।
10. हानिकारक वस्तुएं
ढेर सारी दवाइयां, एसिड बोतल, टॉयलेट क्लीनर शोप, फिनाइल, कीटनाशक, मच्छर मारने की दवा, अधिक बल्ब, एयर फ्रेशनर, अग्निशामक आदि हानिकारक वस्तुओं के लिए एक नियत स्थान हो। ये वस्तुएं घर के वातावरण को विषैला बना देती हैं। इससे हवा का गुणधर्म बदल जाता है।

11. पत्थर, नग या नगीना
अनावश्यक पत्थर, नग, अंगूठी, ताबीज या अन्य इसी तरह के सामान घर में कहीं रख छोड़ते हैं तो हो सकता है कि उनके कारण नकारात्मकता फैल रही हो। इसलिए इस तरह के सामान को घर से बाहर निकाल दें।


और भी पढ़ें :