जेटली की हवाई उड़ान, 100 करोड़ लोगों के लिए बनाई यह योजना...

Last Updated: शुक्रवार, 2 फ़रवरी 2018 (11:45 IST)
नई दिल्ली। सरकार की महत्वाकांक्षी उड़ान योजना के तहत ऐसे 56 हवाईअड्डों और 31 हेलीपैडों को जोड़ा जाएगा जो अब तक बेहद कम इस्तेमाल में थे। इस तरह के 16 हवाईअड्डों पर परिचालन पहले ही शुरू किया जा चुका है।

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आज संसद में आम बजट पेश करते हुए कहा कि सरकार ने एक नई मुहिम के तहत प्रतिवर्ष एक अरब उड़ानें संचालित करने के लिए हवाईअड्डों की क्षमता को पांच गुना विस्तृत करने का भी प्रस्ताव रखा है।

उन्होंने कहा, पिछले तीन साल में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या प्रतिवर्ष 18 प्रतिशत की दर से बढ़ी है। हमारी विमानन कंपनियों ने इस दौरान 900 से अधिक विमान खरीदे हैं। उन्होंने कहा कि उड़ान योजना के तहत ऐसे 56 हवाईअड्डों और 31 हेलीपैडों को जोड़ा जाएगा जो अब तक बेहद कम इस्तेमाल में हैं। इस तरह के 16 हवाईअड्डों पर परिचालन पहले ही शुरू किया जा चुका है।

जेटली ने कहा, सरकार की इस पहल से हवाई चप्पल पहनने वाले नागरिक भी हवाई जहाज में यात्रा कर रहे हैं। हवाईअड्डों की क्षमता बढ़ाने के संबंध में जेटली ने कहा कि विस्तारीकरण योजना के वित्त पोषण के लिए भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के बैलेंस शीट का उपयोग किया जाएगा।

उन्होंने कहा, ढांचागत संरचना अर्थव्यवस्था की वृद्धि के वाहक हैं। हमारे देश को सकल घरेलू उत्पाद बढ़ाने के लिए ढांचागत क्षेत्र में 50 लाख करोड़ रुपए के करीब भारी-भरकम निवेश की जरूरत है, ताकि देश को सड़कों, हवाईअड्डों, रेल, बंदरगाहों, नदी, जलमार्गों आदि के जरिए जोड़ा जा सके और हमारे लोगों को अच्छी गुणवत्ता की सेवाएं उपलब्ध हो सकें। (भाषा)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :