फिल्म अभिनेत्री रेखा को आज भी किससे इश्क है?

Last Updated: सोमवार, 4 दिसंबर 2017 (01:04 IST)
मुंबई। 'मैं उनकी बहुत इज्जत करती हूं, जिंदगी भर उनसे प्यार करती आई हूं, सुबह जब मैं ध्यान करती हूं और उनकी तस्वीर सामने आ जाती है और एक तरह से मुझे उनसे इश्क है...जुबां पर लाऊं उसका नाम..चलो बता देती हूं..वो नाम है लता मंगेशकर। उनके जन्मदिन पर मैं मुंबई में उनके घर गई। वहां तमाम लोग थे, लताजी ने कहा 'लोग मुझे 'सरस्वती' मानते हैं लेकिन मैं रेखा जी को साक्षात 'महालक्ष्मी' मानती हूं।' यह बात फिल्मी दुनिया में 50 साल से काम कर रहीं मशहूर अभिनेत्री रेखा ने 'सुपर डांस 2' के मौके पर कही।
शनिवार और रविवार रात को सोनी टीवी पर आने वाले इस कार्यक्रम में रेखा ने 'सुपर डांसर 2' अपने दिल की वो कई बातें शेयर की, जो अब तक सामने नहीं आई थी। रेखा ने बताया कि मैं बहुत छोटी थी और मां ने कह दिया कि बॉम्बे (तब मुंबई का यही नाम) जाओ और काम करो। मैं मां से पूछ भी नहीं पाई कि अकेली वहां कैसे काम करूंगी।
मुझे डांस का शौक था और मैंने फिल्मी दुनिया में अपनी जगह बनाने में काफी मेहनत की। मैं आज 'सुपर डांसर 2' की तमाम लड़कियों और पूरे देश की लड़कियों से कहना चाहती हूं कि आप लक्ष्मी बनकर इस धरती पर आई हो। लक्ष्मी न केवल बरकत लाती है बल्कि बरकत फैलाती भी है।
63 वर्षीय रेखा पानीपत की 5 साल की वैष्णवी के डांस से इतनी प्रभावित हो गई कि परफार्म के बाद उन्होंने वैष्णवी को कहा कि मैं तुम्हारा ऑटोग्राफ लेना चाहती हूं लेकिन अपनी स्टाइल में। फिर उन्होंने वैष्णवी के दोनों हाथों के पंजों की छाप एक सफेद कागज पर लिए और कहा कि मैं इसे फ्रेम करवाकर अपने घर में रखूंगी।
रेखा ने वैष्णवी की मां सोनिया प्रजापत से पूछ लिया कि आपने क्या खाकर इस लड़की को पैदा किया था। इस पर सोनिया ने कहा कि आलू के पराठे...वैष्णवी के पिता ने कहा कि 5 साल की वैष्णवी ने हमारी जिंदगी बदल दी। जब दुकान से थककर घर जाता हूं तो वैष्णवी की एक मुस्कुराहट मेरे दिनभर की थकान को मिटा देती है। बेटी की वजह से ही पूरे पानीपत में हमें नई पहचान मिली है।

फिल्म अभिनेत्री ने कहा कि मुंबई में मुझे हर दिन नए कपड़े पहनने का शौक था लेकिन यहां पर जितने भी कलाकार डांस पेश करने आए हैं, वे सम्पन्न परिवार से नहीं हैं। कई बच्चे तो अपनी मेहनत की कमाई अपने गांव भेज रहे हैं ताकि उनके परिवार वाले तंगहाली से कुछ निजात पा सके। मेरा ऐसा मानना है कि देश का असली भारत गांव में बसता है। इस मंच पर पर जो लड़के हैं वे सही मायने में 'सन ऑफ इंडिया' हैं।

कार्यक्रम में के परिवार का वीडियो बताया गया। उसकी मां ने जब ये कहा कि मेरा रितिक एक दिन भी हमसे दूर नहीं गया और अब कई महीनों से उसे देखा नहीं। इतना सुनते ही मंच पर ही रितिक रो पड़ा। उसकी बहन ने भी अपने भाई को जीत के आने के लिए शुभकामनाएं दीं। कुछ देर बाद मंच पर रितिक की मां और बहन अचानक आ गई तो माहौल बहुत भावुक हो उठा और कई आंखें नमकीन पानी से भर गईं।
कार्यक्रम में इंदौर की मुस्कान के डांस के बाद रेखा ने कहा कि बचपन में मुझे कठपुतली का खेल देखना बहुत अच्छा लगता था। मेरे हिसाब से मुस्कान यंगेस्ट रोबोट गर्ल है। इसमें मुझे श्रीदेवी की झलक दिखती है और उनकी याद दिलाती है। रेखा ने मुस्कान के साथ सेल्फी भी ली। रेखा ने यह भी कहा कि फिल्मों में तो कलाकारों को कई दिनों का वक्त मिल जाता है लेकिन यहां पर तो कुछ घंटों में भी कार्यक्रम पेश करना पड़ता है।

शनिवार और रविवार दोनों दिन 'सुपर डांसर 2' में बच्चों ने रेखा पर फिल्माए गीतों पर अपनी प्रस्तुतियां दीं। इस दौरान रेखा कई बार भावुक भी हुईं और आंखों से खुशी के आंसू छलक पड़े। रंग बरसे पर विशाल के परफॉरमेंस के बाद उन्होंने कोरियोग्राफर के सिर पर लगे लाल रंग को अपने गालों पर लगा लिए और फिर सभी बच्चों के साथ डांस भी किया।
रेखा के अनुसार मैंने बहुत कम लोगों के साथ होली खेली है, लेकिन यहां पर जो होली खेली वो बहुत खास है। यहां दिल से खुशी मिली। उन्होंने बताया कि मेरी एक बेटी और बेटा थे लेकिन दुर्भाग्य से अब वे इस दुनिया में नहीं है। यहां पर मुझे बच्चों से जो प्यार मिला है वो आज तक कहीं नहीं मिला। मैं बरसों तक इसे कभी नहीं भूल पाऊंगी। (वेबदुनिया न्यूज)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :