इन पारंपरिक व्यंजनों से मनाएं रक्षाबंधन का त्योहार, पढ़ें 5 सरल व्यंजन विधियां

sweets-for-Raksha-Bandhan
* रक्षाबंधन पर्व पर बनाएं ये पारंपरिक व्यंजन, पढ़ें 5 सरल रेसिपी


1. राखी का : घेवर

सामग्री :
डेढ़ कटोरी मैदा, दो कप पानी, डेढ़ बड़ा चम्मच जमा गाढ़ा घी, डेढ़ कप बर्फ का ठंडा पानी, घी, सव्वा दो कटोरी शक्कर, गुलाब पत्ती, चुटकी भर पीला रंग, कटे हुए पिस्ता व बादाम, एक मटका रखने वाली रिंग।
विधि :
सबसे पहले जमा हुआ गाढ़ा घी लेकर एक बर्तन में बर्फ के ठंडे पानी के साथ खूब फेंटिए। करीबन 5 मिनट बाद घी में से पानी बाहर निकल जाता है। अब पानी निथारकर इसमें थोड़ा-थोड़ा कर मैदा मिलाकर फेंटिए।

जब भजिए से भी पतला घोल तैयार हो जाए तब छोटी कड़ाही में मटका रखने वाली रिंग रखें। इसमें घी डालकर गर्म करें। जब घी अच्छी तरह गर्म हो जाए तब रिंग के बीच में धीरे-धीरे धार-सी बनाते हुए मैदे का घोल छोड़ें। रिंग करीब आधा डूबा होना चाहिए।
हल्का बादामी होने लगे, तब सलाई की सहायता से उठा लीजिए। घेवर पर 3-4 बार डेढ़ तार की गर्म चाशनी डालें और तैयार घेवर को मेवे से सजाकर पारंपारिक व्यंजन पेश करें।

*****
2. बंगाल की लोकप्रिय मिठाई : केसरी रसमलाई

सामग्री :
200 ग्राम ताजा पनीर या दो लीटर दूध, पौन लीटर दूध (अलग से), दो चम्मच मिल्क पावडर, एक चम्मच नींबू रस, एक चम्मच फैट फ्री दही, बारीक कटे बादाम व पिस्ते, दो कप शक्कर, पांच कप पानी, 4-5 केसर के लच्छे।

विधि :
दो लीटर दूध उबाल लें और इसमें दही व नींबू रस मिला लें। पांच-दस मिनट उबालें। फिर तैयार पनीर को पानी से निथार लें और साफ कपड़े में बांधकर रात भर रख दें। इस पनीर के एक से डेढ इंच मोटे गोले बना लें। एक पैन में पांच कप पानी और एक कप चीनी डालकर उबालें। उबलने के बाद इसमें पनीर के गोले डालकर करीब 15 मिनट तक उबालें।

दूसरे पैन में दूध में एक कप शक्कर डाल लें। मिल्क पावडर मिलाएं और आधा होने तक उबाल लें। ध्यान रहे कि दूध पैन के तल में न चिपके। दूध थोड़ा ठंडा होने पर उसमें पनीर के तैयार गोले ‍डाल दें। ऊपर से इलायची पावडर, बादाम-पिस्ता व केसर मिला लें और फ्रिज में ठंडा करके सर्व करें।
*****

3. खस्ता मक्खन बड़ा

सामग्री :
मैदा 500 ग्राम, चीनी 1 किलो, घी, 1 कप दही, 1 चुटकी मीठा सोडा, इलायची पावडर, पिस्ता, चांदी का वरक।

विधि :
सबसे पहले मैदा व सोडा छान लें। अब 200 ग्राम घी गुनगुना करके मैदे में डालें व दही से गूंध लें। रोटी के आटे जैसा, छोटे-छोटे चपटे गोले बनाएं व ऊपर से चाकू से क्रॉस या हल्का-सा निशान बना दें। एक कड़ाही में घी गर्म करके धीमी आंच पर सभी बड़ों को सुनहरे होने तक तल लें।

अब चीनी में 2 कप पानी डालें एवं दो तार की चाशनी बना लें। जब चाशनी थोड़ी ठंडी हो जाए तब मक्खन बड़े डालें व 10 मिनट रखने के बाद छलनी में निकाल लें। ऊपर से वरक एवं पिस्ता से सजाएं और खस्ता एवं स्वादिष्ट मक्खन बड़ा पेश करें।

*****

4. मीठे-मीठे मालपुए

सामग्री :
एक कप मैदा छना हुआ, एक कप दूध, एक चम्मच सौंफ, डेढ़ कप शक्कर, एक चम्मच नींबू रस, तलने और मोयन के लिए रिफाइंड तेल, डेकोरेशन के लिए पाव कटोरी मेवे की कतरन और इलायची पावडर एक चम्मच।

विधि :
सबसे पहले मैदे में दो बड़े चम्मच तेल का मोयन डालें। तत्पश्चात दूध और सौंफ मिलाएं और घोल तैयार कर लें। एक मोटे पेंदे के अलग बर्तन में शक्कर, नींबू रस और तीन-चौथाई कप पानी डालकर चाशनी तैयार कर लें।

अब एक कड़ाही में तेल गर्म करके एक बड़े चम्मच से घोल डालते जाएं और करारा फ्राय होने तक तल लें। फिर चाशनी में डुबोएं और एक अलग बर्तन में रखते जाएं। इसी तरह सभी तैयार कर लें और ऊपर से मेवे की कतरन और पिसी इलायची बुरका कर मीठे-मीठे मालपुए पेश करें।
*****
5. बेसन के लड्डू

सामग्री :
500 ग्राम बेसन (मोटा/डेढ़ नंबर) , 400 ग्राम शक्‍कर का बूरा, 1/4 कप नारि‍यल का बूरा, 1/4 कप मेवे की कतरन, शुद्ध घी आवश्‍यकतानुसार।

वि‍धि ‍:
एक कड़ाही में घी गरम कर लें। अब बेसन को छानकर घी में धीमी आंच पर भून लें। सौंधी-सौंधी खुशबू आने के बाद आंच से उतार लें। बेसन गुनगुना होने पर नारि‍यल का बूरा और मेवे की कतरन मिला दें।
अब इसमें शक्‍कर ‍का बूरा डालकर अच्‍छी तरह मि‍लाएं। जब मि‍श्रण एक-सा हो जाए तो अपनी पसंद के आकार के लड्डू बना लें। तैयार पौष्टिक बेसन के लड्डू से पर्व मनाएं।

*****


ALSO READ:
घर का बना मीठा व्यंजन : मैदा सत्तू की मिठाई


और भी पढ़ें :