उत्तर कोरिया-अमेरिका विवाद से शेयर बाजार हुआ धड़ाम

मुंबई| Last Updated: शुक्रवार, 22 सितम्बर 2017 (23:04 IST)
मुंबई। अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच वाद विवाद तेज होने से बढ़ी भू-राजनीतिक चिंता के कारण निवेशकों की धारणा कमजोर होने से शीर्ष दिग्गज कंपनियों में जमकर बिकवाली हुई, जिससे बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 447.60 अंक लुढ़ककर 31,922.44 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 157.50 अंक की भारी गिरावट में 10,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर के नीचे 9,964.40 अंक पर आ गया।
 
विप्रो और कोल इंडिया को छोड़कर सेंसेक्स में शामिल अन्य सभी कंपनियों के शेयरों के भाव लुढ़क गए। इसी तरह निफ्टी की 51 में 47 कंपनियों में बिकवाली का जोर रहा। बीएसई के सभी 20 समूह के सूचकांक गिरावट में रहे। उत्तर कोरिया द्वारा प्रशांत महासागर में हाइड्रोजन बम का परीक्षण करने की संभावना की चर्चा के जोर पकड़ने से निवेशकों का रुझान में जोखिम भरा निवेश करने के बजाय पीली धातु में सुरक्षित निवेश के प्रति बढ़ गया है। भारतीय मुद्रा में कल रही जोरदार गिरावट भी शेयर बाजार पर हावी है।
 
अधिकतर एशियाई बाजारों से मिले कमजोर संकेतों के कारण सेंसेक्स 30.54 अंक की गिरावट में 32,339.50 अंक पर खुला। शुरुआती कारोबार में यह 32,342.81 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक गया, लेकिन फिर पूरे कारोबार के दौरान यह लाल निशान से उबर नहीं पाया। 
 
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन के बीच जारी वाद-विवाद से वैश्विक मंच पर उथल-पुथल का माहौल बन गया है। अस्थिरता के माहौल में निवेशकों का आकर्षण पीली धातु में बढ़ जाता है। रिएल्टी और धातु जैसे समूहों की तेज गिरावट के कारण सेंसेक्स 32,000 अंक के आंकड़े के नीचे 31,886.09 अंक के निचले स्तर गया और अंतत: गत दिवस की तुलना में 1.38 प्रतिशत यानी 447.60 अंक की गिरावट के साथ 31,922.44 अंक पर बंद हुआ।
 
निफ्टी भी 27.55 अंक फिसलकर 10,094.35 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसका उच्चतम स्तर 10,095.05 अंक रहा। यह भी पूरे दिन हरे निशान में नहीं आ पाया और 9,952.80 अंक के निचले स्तर तक गया। कारोबार की समाप्ति पर यह गत दिवस के मुकाबले 1.56 प्रतिशत यानी 157.50 अंक टूटकर 9,964.40 अंक पर बंद हुआ।
 
बीएसई में कुल 2,761 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 2,096 कंपनियों के शेयर गिरावट में और 519 तेजी में रहे। वहीं, 149 कंपनियों के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे। दिग्गज कंपनियों की तुलना में मंझोली और छोटी कंपनियों में बिकवाली अधिक रही। बीएसई का मिडकैप 2.71 प्रतिशत यानी 434.32 अंक की गिरावट के साथ 15,609.89 अंक पर और स्मॉलकैप 2.93 प्रतिशत यानी 491.79 अंक लुढ़ककर 16,293.03 अंक पर बंद हुआ। (वार्ता)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :