जबरदस्त लिवाली से सेंसेक्स हुआ 38 हजारी, निफ्टी में रही तेजी

पुनः संशोधित शुक्रवार, 14 सितम्बर 2018 (16:37 IST)
मुंबई। अंतरराष्ट्रीय बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बीच थोक महंगाई दर के सकारात्मक आंकड़ों से उत्साहित निवेशकों की जबरदस्त लिवाली से का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुक्रवार को 372.68 अंक की बढ़त में 38,090.64 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 145.30 अंक की तेजी के साथ 11,515.20 अंक पर बंद हुआ।

पर गत बुधवार को जारी खुदरा महंगाई दर और औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) का भी असर रहा। गुरुवार को गणेश चतुर्थी के अवसर पर बाजार में कारोबार बंद रहने के बाद शेयर बाजार शुक्रवार को तेजी में खुले।

आंकड़ों के मुताबिक अगस्त में खुदरा महंगाई दर 10 माह के निचले स्तर 3.69 प्रतिशत रही जबकि थोक महंगाई दर 4 प्रतिशत के निचले स्तर 4.53 प्रतिशत पर आ गई। जुलाई के आईआईपी में 6.6 प्रतिशत की तेजी दर्ज की गई। तेल एवं गैस क्षेत्र की कंपनी वेदांता लिमिटेड द्वारा कृष्णा गोदावरी बेसिन के ए3-2 कुएं से प्राकृतिक गैस खोजने की घोषणा से कंपनी के शेयरों में सर्वाधिक 5.25 प्रतिशत की तेजी दर्ज की गई।

सकारात्मक आर्थिक आंकड़ों के दम पर सेंसेक्स तेजी के साथ 37,939.29 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 37,859.52 अंक के निचले स्तर तक गया। लेकिन रियल्टी, बेसिक मैटेरियल्स और तेल एवं गैस जैसे समूहों में हुई लिवाली के दम पर यह 38,125.62 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। अंतत: यह गत दिवस की तुलना में 0.99 फीसदी की तेजी लेता हुआ 38,090.64 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की 30 में से 28 कंपनियां हरे निशान में रहीं। निफ्टी का ग्राफ भी सेंसेक्स की तरह रहा और यह बढ़त के साथ 11,443.50 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 11,523.25 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,430.55 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 1.28 फीसदी की तेजी के साथ 11,515.20 अंक पर बंद हुआ।

निफ्टी की एक कंपनी के शेयर अपरिवर्तित रहे जबकि 4 में गिरावट और शेष 45 तेजी में रहीं। बीएसई के सभी समूहों के सूचकांक में उछाल दर्ज किया गया। दिग्गज कंपनियों की अपेक्षा छोटी और मझौली कंपनियों का प्रदर्शन अधिक अच्छा रहा। बीएसई का मिडकैप 1.62 प्रतिशत यानी 260.52 अंक की तेजी के साथ 16,349.97 अंक पर और स्मॉलकैप 227.54 अंक यानी 1.38 प्रतिशत की बढ़त के साथ 16,670.93 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 2,831 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 174 कंपनियों के शेयरों के भाव दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अपरिवर्तित बंद हुए जबकि 1,822 में तेजी और 835 में गिरावट दर्ज की गई। (वार्ता)


और भी पढ़ें :