सेंसेक्स ने बनाया नया रिकॉर्ड, निफ्टी सपाट

पुनः संशोधित सोमवार, 6 नवंबर 2017 (18:14 IST)
मुंबई। वैश्विक बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच पूरे दिन उतार-चढ़ाव से होता हुआ बीएसई का सेंसेक्स सोमवार को 45.63 अंक चढ़कर नए रिकॉर्ड स्तर 33,731.19 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी हालांकि अंतिम समय में हरे निशान में रहने में विफल रहा और 0.70 अंक की बेहद मामूली गिरावट के साथ 10,451.80 अंक पर रहा।


सेंसेक्स में दवा कंपनियां गिरावट में रहीं जबकि आईटी, बैंकिंग और ऑटो क्षेत्र के शेयरों में निवेशक लिवाल रहे। तेल एवं गैस क्षेत्र की सरकारी कंपनी ओएनजीसी में सबसे ज्यादा करीब चार प्रतिशत की तेजी देखी गई। टाटा मोटर्स के शेयर भी सवा तीन प्रतिशत से अधिक चढ़े। महिंद्रा एंड महिंद्रा और सिप्ला में करीब ढाई प्रतिशत की बढ़त रही। सबसे ज्यादा करीब दो प्रतिशत की गिरावट सनफार्मा में रही।



सेंसेक्स 24.59 अंक की बढ़त में 33,710.15 अंक पर खुला, लेकिन कुछ ही देर में लाल निशान में उतर गया। दोपहर से पहले इसने 33,582.38 अंक के दिवस के निचले स्तर को छुआ। दोपहर बाद टिकाऊ उपभोक्ता उत्पादों के साथ ऑटो कंपनियों के शेयरों में शुरू हुई लिवाली से यह 33,848.42 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया।

बाजार बंद होने से पहले एक बार फिर सेंसेक्स लाल निशान में उतरा, लेकिन अंतत: गत दिवस की तुलना में 0.14 प्रतिशत यानी 45.63 अंक की तेजी के साथ 33,731.19 अंक पर बंद हुआ। यह लगातार तीसरे कारोबारी दिवस बढ़त में बंद हुआ है।




निफ्टी का ग्राफ सेंसेक्स से अलग रहा। यह 20.75 अंक की गिरावट में 10,431.75 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसका दिवस का निचला स्तर 10,413.65 अंक और उच्चतम स्तर 10,490.45 अंक रहा।

कारोबार की समाप्ति से पहले मुनाफावसूली के चक्कर में यह भी लाल निशान में गया, लेकिन सेंसेक्स के विपरीत यह वापसी नहीं कर पाया कारेाबार की समाप्ति पर गत दिवस के मुकाबले 0.01 प्रतिशत यानी 0.70 अंक की गिरावट में 10,451.80 अंक पर रहा।


बीएसई में कुल 2,990 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,419 के शेयर बढ़त में और 1,375 के गिरावट में रहे, जबकि 196 के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे। मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशक लिवाल दिखे। बीएसई का मिडकैप 0.46 प्रतिशत और स्मॉलकैप 0.31 प्रतिशत की तेजी के साथ क्रमश: 16,78.79 अंक और 17,910.90 अंक पर रहा। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :