गिरावट के दबाव में बाजार निचले स्तर पर, सेंसेक्‍स और निफ्टी टूटे

Bombay Stock Exchange
पुनः संशोधित मंगलवार, 9 अक्टूबर 2018 (18:48 IST)
मुंबई। वैश्विक बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों और रुपए में जारी गिरावट के बीच रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा मोटर्स और आईटीसी जैसी दिग्गज कंपनियों में गिरावट के दबाव में मंगलवार को घरेलू छह महीने के निचले स्तर पर आ गए।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 174.91 अंक यानी 0.51 प्रतिशत टूटकर 34,299.47 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 47 अंक यानी 0.45 प्रतिशत की गिरावट में 10,301.05 अंक पर आ गया।

देश की सबसे बड़ी वाहन निर्माता कंपनी टाटा मोटर्स में 13 प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट रही और यह दोनों शेयर बाजारों में सबसे ज्यादा नुकसान उठाने वाली कंपनी रही। उसकी यूरोपीय इकाई जगुआर लैंड रोवर की बिक्री सितंबर में 13.2 प्रतिशत घटने की रिपोर्ट के बाद निवेशकों ने कंपनी के शेयरों में बिकवाली की।

इसके अलावा आज मीडिया में आई उन रिपोर्टों का भी कंपनी पर दबाव बना, जिनमें कहा गया है कि जगुआर लैंड रोवर के ब्रिटिश संयंत्र में दो सप्ताह के लिए उत्पादन बंद करने की योजना है। कारोबार के दौरान बीएसई में एक समय टाटा मोटर्स के शेयर 20 प्रतिशत टूटकर एक साल से ज्यादा के निचले स्तर 170.65 रुपए तक उतर गए थे। सोमवार को यह 212.75 रुपए पर बंद हुआ था।

रुपए की शुरुआती तेजी के दम पर सेंसेक्स 177.44 अंक की बढ़त में 34,651.82 अंक पर खुला और शुरुआती कारोबार में ही 34,711.68 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया, लेकिन बाद में रुपए के अब तक के ऐतिहासिक निचले स्तर पर उतर जाने से यह लाल निशान में चला गया और लगभग पूरे दिन गिरावट में रहा।

चौतरफा बिकवाली के दबाव में कारोबार की समाप्ति से पहले 34,233.50 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ, अंतत: यह गत दिवस की तुलना में 174.91 अंक नीचे 34,299.47 अंक पर बंद हुआ जो 13 अप्रैल के बाद का निचला बंद भाव है।

सेंसेक्स की 30 में से 15 कंपनियों के शेयर हरे और शेष 15 के लाल निशान में रहे। चौतरफा बिकवाली के दबाव में बीएसई के 20 में से 15 समूहों में गिरावट रही। टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद समूह के शेयर सर्वाधिक चार प्रतिशत के करीब लुढ़क गए।

ऑटो में भी ढाई प्रतिशत से ज्यादा और तेल एवं गैस में करीब दो प्रतिशत की गिरावट रही। निफ्टी 42.25 अंक की तेजी के साथ 10,390.30 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसका दिवस का उच्चतम स्तर 10,397.60 अंक और निचला स्तर 10,279.35 अंक रहा।

कारोबार की समाप्ति पर यह सोमवार की तुलना में 47 अंक नीचे 10,301.05 अंक पर बंद हुआ। यह 4 अप्रैल के बाद का इसका निचला स्तर है। निफ्टी की 50 में से 25 कंपनियों के शेयर हरे और शेष 25 के लाल निशान में बंद हुए। मझौली और छोटी कंपनियों पर भी दबाव रहा।

बीएसई का मिडकैप 0.16 प्रतिशत और स्मॉलकैप 0.45 प्रतिशत लुढ़ककर क्रमश: 13,703.35 अंक और 13,501.95 अंक पर आ गया। सेंसेक्स में कुल 2,766 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,591 के शेयरों में गिरावट और 1,024 में तेजी रही, जबकि 151 के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव से होते हुए अंतत: स्थिर बंद हुए। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :