बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स टूटा, निफ्टी भी फिसला

पुनः संशोधित शुक्रवार, 21 सितम्बर 2018 (16:56 IST)
मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बावजूद गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) की खस्ता हालत को लेकर फैली अफवाह से शुक्रवार को शेयर बाजार में अफरातफरी मच गई। बैकिंग, रिएल्टी और वित्त समूह में हुई बिकवाली के दबाव में बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 279.62 अंक लुढ़ककर 36,841.60 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 91.25 अंक फिसलकर 11,143.10 अंक पर बंद हुआ।
विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों और डॉलर की तुलना में रुपए में सुधार से सेंसेक्स की शुरुआत मजबूती के साथ 37,278.89 अंक से हुई और यह शुरुआती पहर में 37,489.24 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। कारोबार के दौरान अपराह्न में बाजार में एनबीएफसी को लेकर निवेशकों में हलचल मच गई।

आईएलएंडएफसी के दिवालिया होने की रिपोर्ट से अन्य कंपनियों के प्रति भी निवेशक अन्य गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों को लेकर आशंकित हो गए। इससे दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड में 59.67 प्रतिशत तक की तेज गिरावट रही और इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड 35 फीसदी तक लुढ़क गया।

इसके अलावा यस बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राणा कपूर का कार्यकाल सीमित करने के रिजर्व बैंक के निर्णय से सेंसेक्स में सबसे खराब प्रदर्शन इसी बैंक का रहा। इन घटनाओं के कारण सेंसेक्स 1100 अंकों से अधिक की गिरावट लेकर 35,993.64 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़क गया।

बाद में एनबीएफसी के प्रमुखों ने अपनी-अपनी कंपनी की आर्थिक स्थिति को लेकर साक्षात्कार दिया जिसके बाद इसमें सुधार हुआ और यह तेज गिरावट से उबरता हुआ गत दिवस के मुकाबले 0.75 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,841.60 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 13 कंपनियां हरे निशान में और शेष 17 लाल निशान में रहीं।

निफ्टी की शुरुआत भी सेंसेक्स की तरह तेजी के साथ 11,271.30 अंक से हुई। कारोबार के शुरुआती पहर में यह 11,346.80 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। भारी बिकवाली से यह 10,866.45 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़का और अंतत: गत दिवस के मुकाबले 0.81 फीसदी की गिरावट में 11,143.10 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 27 कंपनियां गिरावट में और 23 तेजी में रहीं।

दिग्गज कंपनियों की अपेक्षा छोटी और मंझोली कंपनियों को अधिक नुकसान उठाना पड़ा। बीएसई का मिडकैप 1.72 प्रतिशत यानी 272.21 अंक लुढ़ककर 15,595.63 अंक पर और स्मॉलकैप 3.00 प्रतिशत यानी 487.86 अंक की गिरावट में 15,763.10 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,840 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें 2,106 में गिरावट, 586 में तेजी रही जबकि 148 कंपनियों के शेयरों के भाव अपरिवर्तित बंद हुए। (वार्ता)


और भी पढ़ें :