स्टेज पर 'कामुक डांस' करने से इनकार किया महिला फुटबॉलर एडा हेगरबर्ग ने

Last Updated: मंगलवार, 4 दिसंबर 2018 (18:36 IST)
पेरिस। दुनिया की पहली बन गई हैं, जिन्हें प्रतिष्ठित ‘बैलन डी ओर’ अवॉर्ड से नवाजा गया है, हालांकि इस ऐतिहासिक पल में उस समय विवाद पैदा हो गया जब फ्रेंच डीजे मार्टिन सोलविग ने एडा से स्टेज पर कामुख डांस ‘ट्वर्क’ करने के लिए कह दिया।


वर्ष के सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय फुटबॉलर को दिए जाने वाले अवार्ड बैलन डी ओर से पहली बार किसी महिला फुटबॉलर को भी नवाजा गया। पेरिस में आयोजित बड़े समारोह में क्रोएशिया के लूका मोडरिच इस बार पुरुष विजेता बने जबकि पहली बार महिला वर्ग में यह पुरस्कार ओलंपिक लियोनस की खिलाड़ी और नार्वे की स्ट्राइकर एडा को दिया गया। एडा ने महिला चैंपियंस लीग खिताब के लिए अपनी टीम की सफल अगुवाई की थी और फाइनल में टीम के लिए गोल भी किया था।

हालांकि एडा जब अवॉर्ड लेने के लिए मंच पर पहुंचीं तो कार्यक्रम की सह मेजबानी कर रहे मार्टिन ने महिला फुटबॉलर से मंच पर ही डांस करने के लिए अपील कर दी। इस अपील को सुनकर एडा ने सिरे से मना कर दिया। लेकिन इसके बाद यह मामला चौतरफा बहस का विषय बन गया, जिसके लिए बाद में फ्रेंच डीजे मार्टिन को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी पड़ गई।

ट्वर्क एक प्रकार का है जो काफी कामुख होता है। गीतकार और रेडियो होस्ट मार्टिन ने एडा से बाद में व्यक्तिगत रूप से माफी मांगी। उन्होंने लिखा, 'मैं सोशल साइटों पर इस मामले में जो प्रतिक्रिया मिली है उसे पढ़कर बहुत हैरान हूं। मैं किसी को दु:खी नहीं करना चाहता था। यह मेरी इंग्लिश और इंग्लिश संस्कृति के कारण हुआ, जो बहुत अच्छी नहीं है। मैंने एक मजाक किया था और वह बुरी नीयत से नहीं था। मैं इसके लिए माफी मांगता हूं।

वहीं खुद लियोन की खिलाड़ी ने भी इस मामले पर लोगों की प्रतिक्रिया और इस मामले को उनके अपमान से जोड़ने पर हैरानी जताई। एडा ने लिखा, 'मुझे बिल्कुल भी गलत नहीं लगा, जैसा लोग सोच रहे हैं। मार्टिन शो के बाद मेरे पास आए थे और मुझसे माफी भी मांगी। मेरे लिए 'बैलन डी ओर' अवॉर्ड बहुत अहम है और यही महत्वपूर्ण चीज़ है।'


और भी पढ़ें :