जकार्ता एशियाड में भारतीय दल के ध्वजवाहक होंगे विश्व चैंपियन नीरज चोपड़ा

Last Updated: शुक्रवार, 10 अगस्त 2018 (19:46 IST)
नई दिल्ली। राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण विजेता और जूनियर विश्व चैंपियन भाला फेंक युवा एथलीट नीरज चोपड़ा 18 अगस्त से इंडोनेशिया में शुरू होने जा रहे 18वें एशियाई खेलों में 572 सदस्यीय भारतीय दल के ध्वजवाहक होंगे।

भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष नरेंद्र ध्रुव बत्रा ने शुक्रवार को एशियाई खेलों में हिस्सा लेने जा रहे भारतीय एथलीटों के लिए आयोजित विदाई समारोह में इसकी घोषणा की। इस मौके पर केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर, आईओए के महासचिव राजीव मेहता, भारतीय दल प्रमुख बृज भूषण शरण सिंह और 45 एथलीट मौजूद थे।

इंडोनेशिया के जकार्ता और पालेमबांग में 18 अगस्त से 2 सितंबर तक 18वें एशियाई खेलों का आयोजन होना है। भारत ने इन खेलों में अपना 800 से अधिक सदस्यीय दल उतारा है इसमें 572 एथलीट 36 खेलों में पदकों के लिए दावेदारी पेश करेंगे। भारत ने चार वर्ष पहले इंचियोन एशियाई खेलों में 541 सदस्यीय दल उतारा था जिसने 11 स्वर्ण सहित 57 पदक जीतकर पदक तालिका में आठवां स्थान हासिल किया था।

आईओए ने इससे पहले 541 खिलाड़ियों की सूची केंद्रीय खेल मंत्रालय को भेजी थी लेकिन बाद में कुछ खिलाड़ियों के अदालत से अनुमति मिलने के बाद खिलाड़ियों की संख्या बढ़ गई और अब कुल 572 खिलाड़ियों सहित 800 से अधिक भारतीय दल इन खेलों में उतरेगा।

बत्रा ने इस अवसर पर घोषणा की कि नीरज चोपड़ा भारतीय दल के ध्वजवाहक की भूमिका निभाएंगे। बत्रा ने जैसे ही यह घोषणा की पूरा हॉल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।

20 साल के नीरज ने इस वर्ष ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए राष्ट्रमंडल खेलों की भाला फेंक स्पर्धा में देश के लिये स्वर्ण पदक जीता था। हरियाणा के पानीपत के रहने वाले नीरज ने वर्ष 2017 में एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 85.23 मीटर की थ्रो के साथ स्वर्ण जीता था। इस वर्ष मई में नीरज ने दोहा डायमंड लीग में 87.43 की शानदार थ्रो के साथ राष्ट्रीय रिकार्ड तोड़ा था।
नीरज जूनियर वर्ग के विश्व चैंपियन रह चुके हैं। वह फिलहाल उवे होन के मार्गदर्शन में कोचिंग ले रहे हैं और उन्हें में भी बड़ी पदक उम्मीद माना जा रहा है। आईओए के अध्यक्ष बत्रा ने बताया कि जकार्ता में भारतीय दल के लिए स्वागत समारोह 16 अगस्त को होगा।

उन्होंने बताया कि आज के विदाई समारोह में कई खेलों के 45 खिलाड़ी मौजूद हैं जिन्हें एशियाई खेलों के लिए शुभकामनाएं दी जा रही हैं। भारत के काफी खिलाड़ी विदेशों में ट्रेनिंग कर रहे हैं और सीधे जकार्ता पहुंचेंगे।
बास्केटबॉल और हैंडबॉल के मुकाबले 14 अगस्त से शुरू हो जाएंगे। भारत का आधिकारिक दल कल जकार्ता पहुंचेगा। बत्रा ने कहा, पिछले एशियाई खेलों में हमने आठवां स्थान हासिल किया था। लेकिन इस बार उम्मीद है कि हमारे पदक ज्यादा आएंगे और पदक तालिका में भी सुधार देखने को मिलेगा।

भारत इन खेलों में तीरंदाजी, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, बास्केटबॉल, मुक्केबाजी, बॉलिंग(टेनपिन), ब्रिज, केनोई कयाक, साइक्लिंग, घुड़सवारी, तलवारबाजी, जिमनास्टिक्स, गोल्फ, हैंडबॉल, हॉकी, जूडो, कबड्डी, कराटे, कोराश, पेनसाक सिलत, रोलर स्केटिंग, रोइंग, सेलिंग, सेपकटकरा, निशानेबाजी, स्क्वैश, तैराकी, सॉफ्ट टेनिस, स्पोर्ट्स क्लाइबिंग, टेबल टेनिस, ताइक्वांडो, टेनिस, वॉलीबॉल, भारोत्तोलन, कुश्ती और वुशू में अपने खिलाड़ी उतार रहा है।
विदाई समारोह में हॉकी, एथलेटिक्स, तलवारबाजी, वॉलीबॉल, कुश्ती, बैडमिंटन, मुक्केबाजी, हैंडबॉल, साइक्लिंग और निशानेबाजी सहित कई खेलों के 45 खिलाड़ियों को किट देकर एशियाई खेलों के लिए शुभकामनाएं दी गई।

इन खिलाड़ियों में हॉकी के सरदार सिंह, मनप्रीत सिंह, वीरेंद्र लाकड़ा, अमित रोहिदास, सुशीला चानू, सविता, दीप ग्रेस एका और प्रीति दुबे, तलवारबाजी में कविता देवी, एना, जसप्रीत सिंह, एथलेटिक्स में सरिता, तेजेंद्र पाल सिंह, शिव पाल सिंह, वालीबॉल के कुछ सदस्य, पहलवान सुमित, मौसम खत्री, मनीष और हरदीप, बैडमिंटन खिलाड़ी समीर वर्मा, मुक्केबाज सोनिया लाठर, साइक्लिंग के खिलाड़ी, निशानेबाज संजीव राजपूत और अनीश भनवाला शामिल थे।

इस अवसर पर एशियाड में हिस्सा लेने जा रहे भारतीय दल की जानकारी को समेटे हुए बुकलेट, खिलाड़ियों की आधिकारिक किट और उद्घाटन समारोह के लिए आधिकारिक पोशाक का भी अनावरण किया गया। इस मौके पर आईओए के महासचिव राजीव मेहता ने बताया कि सभी 572 खिलाड़ियों को 50-50 लाख रुपये का बीमा कवर दिया गया है। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :