ये थीं भगवान श्रीकृष्ण की बहनें

अनिरुद्ध जोशी 'शतायु'|
*भगवान श्री की बहनें 4 थीं। श्रीकृष्ण का जन्म 22वें तीर्थंकर नेमिनाथ के काल में हुआ था। अर्थात 3112 ईसा पूर्व उनका जन्म हुआ था।
Widgets Magazine
1. एकांगा (यह यशोदा की पुत्री थीं)। उन्होंने एकांत ग्रहण कर लिया था। इन्हें यादवों की कुल देवी भी माना गया है। कुछ लोग इन्हें योगमाया भी कहते हैं।

2. सुभद्रा : वसुदेव की दूसरी पत्नी रोहिणी से बलराम और सुभद्र का जन्म हुआ। वेबदुनिया के शोधानुसार वसुदेव देवकी के साथ जिस समय कारागृह में बंदी थे, उस समय ये नंद के यहां रहती थीं। सुभद्रा का विवाह कृष्ण ने अपनी बुआ कुंती के पुत्र अर्जुन से किया था। जबकि बलराम दुर्योधन से करना चाहते थे।
3. द्रौपदी : पांडवों की पत्नी द्रौपदी हालांकि कृष्ण की नहीं थी, लेकिन श्रीकृष्‍ण इसे अपनी मानस भगिनी मानते थे।

4.महामाया : देवकी के गर्भ से सती ने महामाया के रूप में इनके घर जन्म लिया, जो कंस के पटकने पर हाथ से छूट गई थी। कहते हैं, विन्ध्याचल में इसी देवी का निवास है। यह भी कृष्ण की बहन थीं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine


Widgets Magazine

और भी पढ़ें :