0

उड़ता गुजरात थर्राता थार

मंगलवार,जनवरी 27, 2009
0
1
भारत की सीमाओं के अंदर कहीं दूसरा देश बसता है, तो वह है पूर्वोत्तर। चीन की संस्कृति से प्रभावित लेकिन रहन-सहन भारतीयता ...
1
2

दक्षिण में विकास की होड़

मंगलवार,जनवरी 27, 2009
दक्षिण में आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक व केरल विकास की नई इबारत लिख रहे हैं। लंबी तटरेखा और आसान आवागमन के साधन होने ...
2
3
आजादी के बाद भारत ने छः दशक बिता दिए। खान-पान बदला, रहन-सहन बदल गया। फिजा बदली तो फसाने, रुत बदली तो रूतबा और पानी भी ...
3
4
गणतंत्र की जयकार कश्मीर से नगालैंड तक गूँज रही है। भारत के साथ राजनीतिक क्रांतियाँ करने वाले कई देशों में पिछले छः ...
4
4
5
'देश की कानून व्यवस्था अलग विषय है और देश की आतंरिक सुरक्षा अलग। आज देश का कानून देश की सुरक्षा के लिए पर्याप्त नहीं ...
5
6
सैकड़ो बरस की गुलामी के बाद 26 जनवरी 1950 में भारत में गणतंत्र का पौधा रोपा गया। गणतंत्र के इस पौधे को हजारो बलिदानों और ...
6
7
26 जनवरी 2009 को भारत अपने गणतंत्र के 59 वर्ष पूर्ण करेगा। बीते वर्षों में देश ने अनेक उतार-चढ़ाव देखे हैं, विकास की ...
7
8
भारत के प्रथम राष्‍ट्रपति डॉ. राजेन्‍द्र प्रसाद ने 26 जनवरी 1950 को 21 तोपों की सलामी के बाद भारतीय राष्‍ट्रीय ध्‍वज को ...
8
8
9
गणतंत्र दिवस पर प्रत्येक वर्ष की तरह 26.1.2009 को दिल्ली में भारत की प्रथम महिला राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल राष्ट्रीय ...
9
10
आज देश उन बहादुर बच्चों को सलाम करता है तथा उनकी बहादुरी की सहारना करता है, जिन्होंने अपनी जान की परवाह किए बगैर सच्ची ...
10
11
मेरा देश कभी नहीं बँटा जातिवाद के नारों में एक थे हम, एक है हम एकता की सुगंध है इन फिजाओं में। मेरा ये प्यारा ...
11
12

जीत के संग सम्मान दिलाए

शुक्रवार,जनवरी 23, 2009
शीतल, धवल, ये निश्छल मन, करने चले नमन, लहराने तिरंगा ले के ख्वाहिश सब ओर हो अमन । चाहत और वफादारी का पैगाम, देता सरहद ...
12
13
आज हम अपना 60 वाँ गणतंत्र दिवस मना रहे हैं अर्थात अब हमारी आजादी बूढी होती जा रही है व हम अनुभवों से परिपक्व होते जा ...
13
14
भारतीय गणतंत्र आज परिपक्व हो गया है। 60 वाँ दिवस मनाते हुए सहज ही गौरवमयी स्मृतियों को नमन करने को दिल करता है। पिछले ...
14
15
आज 60वाँ गणतंत्र है। इन साठ वर्षों में भारत ने नित नए प्रगति के सोपान तय किए हैं। किन्तु हम संतोष की साँस ले सके या ...
15
16
26 जनवरी। हमारा राष्ट्रीय पर्व। एक अत्यंत शुभ दिन। वह दिन जब हमने अपना संविधान लागू किया था। जनता का, जनता के लिए, जनता ...
16