0

क्या आप जानते हैं, पृथ्वी पर कहां है मां सरस्वती का निवास....

बुधवार,जनवरी 17, 2018
0
1
वसंत पंचमी विद्या, ज्ञान और बुद्धि की देवी मां सरस्वती की आराधना, उपासना और पूजा का पर्व है। इस दिन को क्यों खास माना ...
1
2
यहां पाठकों के लिए प्रस्तुत है जनवरी 2018 का मासिक पंचांग जिसमें जनवरी माह की तिथियां, नक्षत्र, योग, करण, चन्द्र राशि, ...
2
3
'तुष्टो ददासि वै राज्यं रुष्टो हरसि तत्क्षणात्' शनिदेव प्रसन्न (संतुष्ट) होने पर राज्य दे देते हैं और रुष्ट होने पर उसे ...
3
4
अगर आप मां सरस्वती के मंत्र, श्लोक आदि नहीं जानते हैं तो भी आपको परेशान होने की जरूर‍त नहीं है। देवी सरस्वती के मात्र ...
4
4
5
अगर आप जनवरी के महीने में नया कार्य, व्यापार या गृह प्रवेश करना चाह‍ते हैं तो हम आपके लिए लेकर आए हैं वर्ष 2018 के ...
5
6
उज्जैन। अगर आप महाशिवरात्रि पर उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शनों के लिए जा रहे हैं तो आपके लिए यह काम की खबर है। ...
6
7
भीम ने दुर्योधन की जंघा उतार दी थी। वह खून में लथपथ होकर रणभूमि पर गिरा हुआ था। बस, कुछ ही समय में दम तोड़ने वाला था ...
7
8
आर्थिक उन्नति की योजना बनेगी। कार्यपद्धति में सुधार होगा। सुख के साधन जुटेंगे। कुसंगति से बचें। लाभ होगा।
8
8
9

17 जनवरी 2018 : आपका जन्मदिन

मंगलवार,जनवरी 16, 2018
दिनांक 17 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 8 होगा। यह ग्रह सूर्यपुत्र शनि से संचालित होता है। इस दिन जन्मे व्यक्ति धीर गंभीर, ...
9
10
शुभ विक्रम संवत- 2074, अयन- उत्तरायन, मास- माघ, पक्ष- कृष्ण, हिजरी सन्- 1439, मु. मास- रबी अल-थानी, तारीख- 29। दिवस ...
10
11
भगवान श्रीकृष्ण ने धर्म का साथ दिया। इसीलिए इसे धर्मयुद्ध कहा गया। अब सवाल यह उठता है कि कौरव पक्ष में गुरु द्रोणाचार्य ...
11
12
आदि वराह से पहले नील वराह और उनके बाद श्वेत वराह हुए जिनके बारे में कम ही लोग जानते होंगे। तीनों के काल को मिलाकर वराह ...
12
13
किसी भी नए कार्य को शुरू करने से पहले उस माह के सर्वसिद्धि, कार्य-सिद्धि और शुभ-अशुभ योग-संयोग को देख-परख लेना श्रेष्ठ ...
13
14
प्राचीन ग्रंथों के अनुसार शनिदेव ने शिव भगवान की भक्ति व तपस्या से नवग्रहों में सर्वश्रेष्ठ स्थान प्राप्त किया है। एक ...
14
15
वर्ष 2018 में मां दुर्गा की शक्ति की उपासना का पर्व गुप्त नवरात्रि गुरुवार, 18 जनवरी से शुरू हो रहा है। मान्यता के ...
15
16
ज्योतिष में शनिदेव का विशेष स्थान है। अक्सर देखा गया है कि आम जनता शनि भगवान से बहुत भयभीत रहती है। शनि की वक्र दृष्टि ...
16
17
मंगल साहस, ऊर्जा, उत्साह, बल व महत्वाकांक्षा का कारक है। अब तक शुक्र की राशि तुला में अवस्थित था, अब अपनी राशि वृश्चिक ...
17
18
गुप्त नवरात्रि की प्रामाणिक एवं पवित्र कथा के अनुसार एक समय ऋषि श्रृंगी भक्तजनों को दर्शन दे रहे थे। अचानक भीड़ से एक ...
18
19
धर्म में आस्था रहेगी। सत्संग का लाभ मिलेगा। कोर्ट-कचहरी में लाभ होगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। प्रमाद न करें।
19