Widgets Magazine

योगी की सख्‍ती, निशाने पर प्रदूषण फैलाने वाले उद्योग

लखनऊ| पुनः संशोधित शुक्रवार, 21 अप्रैल 2017 (16:27 IST)
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जल, वायु और ध्वनि को जन स्वास्थ्य के लिए घातक बताते हुए प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों पर सख्त कार्रवाई के लिए कहा है। 
 
योगी ने पर्यावरण विभाग के प्रस्तुतीकरण के दौरान कहा, 'पर्यावरण में होने वाले बदलावों से हम सभी प्रभावित होते हैं। स्वस्थ समाज के लिए संतुलित पर्यावरण अत्यन्त आवश्यक है। पर्यावरण को प्रदूषित होने से रोकने की जिम्मेदारी हम सबकी है। ऐसे में यह आवश्यक है कि हम हर तरह के प्रदूषण पर लगाम लगाएं।'
 
योगी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रदूषण फैलाने वाले इसकी रोकथाम किए जाने के सभी प्रयास सुनिश्चित करें। रोकथाम न होने पर सख्त कार्रवाई की जाए।
 
उन्होंने जल तथा वायु में मौजूद प्रदूषण को जन स्वास्थ्य के लिए घातक बताते हुए इस पर त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ध्वनि प्रदूषण भी एक बहुत बड़ी समस्या है। इस पर भी नियंत्रण की आवश्यकता है।
 
योगी ने पॉलीथिन बैग के उपयोग पर प्रभावी प्रतिबन्ध लगाने की आवश्यकता पर बल देने के साथ-साथ शहरों में व्याप्त प्रदूषण को समाप्त करने के लिए कहा।
 
उन्होंने कहा कि प्रदेश में नदियों के किनारे स्थापित किए गए उद्योगों से होने वाले जल प्रदूषण को रोकने के लिए तत्काल कार्रवाई की जाए। उनके द्वारा नदियों में पहुंचाये जा रहे प्रदूषित जल तथा अन्य उत्प्रवाह को हर हाल में रोका जाए, अन्यथा नदियों में मौजूद जलचरों के साथ-साथ मनुष्यों को भी इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।
 
मुख्यमंत्री ने पर्यावरण विभाग को निर्देश दिया कि पर्यावरण को सन्तुलित एवं साफ-सुथरा बनाने के लिए प्रभावी कार्य किए जाएं। (भाषा) 
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine