शिवराज सिंह चौहान घायल बच्चों को देखने के लिए अस्पताल पहुंचे (वीडियो)

इंदौर। पिछले शुक्रवार की शाम को बायपास पर बिचौली हप्सी पर की बस दुर्घटना में 4 स्कूली बच्चों और ड्राइवर की मौत हो गई थी। शनिवार को मृत बच्चों का अंतिम संस्कार कर दिया गया। रविवार को मुख्यमंत्री बस दुर्घटना में अन्य घायल बच्चों को देखने के लिए पहुंचे और उसके बाद वे पीड़ित परिजनों के घर भी शोक मनाने पहुंचे।
मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि यह घटना बहुत दु:खद है। इस घटना से मन द्रवित हो गया। आगे से ऐसी घटना ना हो यह सुनिश्चित किया जाएगा। इस घटना की मजिस्ट्रियल जांच का आदेश दे दिए हैं। जांच का जिम्मा आईएएस अधिकारी अपर कलेक्टर रुचिका चौहान को सौंपा गया है और यह जांच की रिपोर्ट 15 दिन में मांगी गई है। शिवराज ने कहा कि इस रिपोर्ट के आधार पर जो भी निष्कर्ष निकल कर सामने आएंगे, उस के मद्देनजर सरकार द्वारा कार्यवाही की जाएगी। मैं यह भरोसा दिलाता हूं कि किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

उन्होंने कहा कि सरकार ने यह तय किया है कि अब 15 वर्ष से अधिक पुरानी कोई भी स्कूल बस नहीं चल सकेगी। वर्तमान में प्रदेश में 17000 से ज्यादा बस का उपयोग स्कूल बस के रूप में किया जा रहा है। राज्य सरकार द्वारा यह प्रतिबंध लगाए जाने के कारण इनमें से ढाई हजार से ज्यादा बसों को हटाना पड़ेगा। हम स्कूल संचालकों को 3 माह का समय देंगे और यह अपेक्षा रखेंगे की वह इस समय में इन बसों को बदल देंगे।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :