50 रुपए में आपकी सरकार आपके द्वार, केजरीवाल की योजना की 5 खास बातें...

Last Updated: सोमवार, 10 सितम्बर 2018 (14:15 IST)
मुख्यमंत्री ने सोमवार को दिल्ली सरकार की महत्वकांक्षी योजना 'डोर स्टेप डिलीवरी ऑफ सर्विसेज' की करते हुए इसे पूरी दुनिया के लिए ऐतिहासिक दिन बताया है। उन्होंने कहा कि अब तक हम पीजा की होम डिलीवरी सुना करते थे लेकिन कभी ये नहीं सुना था कि सरकार को फोन करोगो तो सरकार आपके घर आ जाएगी। उन्होंने कहा कि यह एक छोटा पर मजबूत कदम है।

कितनी सेवाएं मिलेंगी: इस योजना के तहत अभी 40 सर्विस शुरू की गई है। अगले महीने 30 और सेवाओं को इसमें जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि इस स्कीम के दायरे को धीरे-धीरे बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने पूरी दुनिया के सामने शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में मिसाल पेश की है। इन दोनों योजनाओं की पूरी दुनिया में चर्चा हो रही है।

क्या होगी 'डोर स्टेप डिलीवरी ऑफ सर्विसेज': दिल्ली सरकार की 'डोर स्टेप डिलीवरी ऑफ सर्विसेज' योजना का लाभ लेने के लिए आम लोगों को 1076 नम्बर पर फोन करना होगा। इसके बाद सरकार का एक्जीक्यूटिव आपके घर आएंगे।

वह आपको पहले से बता देगा कि आपको क्या कागज तैयार कर के रखने हैं। एक्जीक्यूटिव आपकी सुविधा के अनुरूप आपसे समय ले कर आपके घर आएगा। सभी आवश्यक कागज उपलब्ध कराने के बाद आपको एक निश्चित समय में सर्टिफिकट उपलब्ध कराया जाएगा।

सशुल्क है यह योजना:
इस सुविधा के लिए 50 रुपये शुल्क लिया जाएगा। यदि फोन करने पर आपका फोन नहीं उठा रहा है या लाइन बीजी है तो घबराने की जरूरत नहीं है। सेवा उपलब्ध कराने वाली कंपनी आपको वापस फोन करेगी।

फीडबैक से सुधारेंगे सर्विस: सेवा लेने वाले लोगों से फीडबैक लिया जाएगा। फोन कर के पूछा जाएगा कि क्या आप हमारी सेवा से खुश हैं। कंपनी की पेमेंट लोगों को संतुष्ट कर पाने पर निर्भर होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 25 लाख लोग यदि इस योजना को इस्तेमाल करेंगे तो सरकार को 12 करोड़ रुपये खर्च आएगा इस सेवा को आम लोगों तक पहुंचाने में। आने वाले समय में इस योजना को सही से लागू करने में काफी मुश्किलें आएंगी। लेकिन हम सभी कमियों को दूर करेंगे।


और भी पढ़ें :