प्रीत चौधरी प्रारंभिक फेलोज क‍ी ट्रेनिंग लेंगे

Last Updated: शुक्रवार, 6 अक्टूबर 2017 (15:30 IST)
कैलिफोर्निया। कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी लास एं‍जिलिस ने हाल ही में घोषणा की है कि इसने एक पांच-सप्ताह का ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू किया है जोकि बायोसाइंस के आंत्रेप्रेन्योर्स के लिए है। इसमें एक भारतीय-अमेरिकी डॉक्टर और वैज्ञानिक भी उद्‍घाटक सदस्यों में शामिल होंगे।

यूनिवर्सिटी ऑफ सदर्न कैलिफोर्निया, केक स्कूल ऑफ मेडिसिन, प्रोफेसर प्रीत चौधरी भी 11 वे प्रारंभिक फेलोज और टीम मेम्बर्स के तौर पर एलए बायास्टार्ट में भाग लेंगे। चौधरी एक ऐसी कंपनी का सह-संस्थापक बनने जा रहे हैं जोकि प्रमुख रूप से कैंसर के इलाज पर केन्द्रित है। यह कार्यक्रम बायोसाइंस उद्यमियों के लिए है जिनकी घोषणा पिछले महीने की गई थी और यह फिलहाल परिसर में चल रहा है।

पांच सप्ताह के इस कार्यक्रम को अमेरिकी आर्थिक विकास प्रशासन फंड कर रहा है और एलए बायोस्टार्ट
स्टार्टअप कंपनियों के लिए ट्रेनिंग, मेंटरिंग और कारोबारी जानकारी उपलब्ध करा रहा है। एलए बायोस्टार्ट ट्रेनिंग लास एंजिलिस क्लीनटेक इनक्यूबेटर में होती है और जोकि नि:शुल्क होती है जिसमें उद्योग क्षेत्र के शीर्ष विशेषज्ञ भाग लेते हैं।

विदित हो कि चौधरी दिल्ली विश्वविद्यालर के स्नातक हैं जहां से उन्होंने मेडिकल डिग्री ली है और इसके बाद यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनॉयस, शिकागो से डॉक्ट्रेट हासिल की है। फिलहाल वे जेन एनी नोल डिवीजन, हैमेटोलॉजी और सेंटर फार द स्टडी ऑफ ब्लड डिजीज में कार्यरत हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :