भारतीय मूल के व्यक्ति को छह माह की सजा

Last Updated: शनिवार, 12 अगस्त 2017 (10:49 IST)
सिंगापुर। भारतीय मूल के एक व्यक्ति को कानून प्रवर्तन अधिकारियों पर हमला करने और उन्हें धमकी देने के आरोप में एक अदालत ने छह माह और चार सप्ताह की सजा सुनाई है। इन अधिकारियों ने उसे वर्जित क्षेत्र में धूम्रपान करने के लिए समन किया था।
‘स्ट्रैट्स टाइम्स’ की एक रिपोर्ट के अनुसार (59) ने शुक्रवार अदालत में पुलिस अधिकारी और राष्ट्रीय पर्यावरण एजेंसी (एनईए) के एक अधिकारी (जिसने अपने सहकर्मी के साथ उसे वर्जित क्षेत्र में धूम्रपान करने से रोका था) को चोट पहुंचाने का आरोप स्वीकार कर लिया।

सुगुमार डकैती, लोगों को चोट पहुंचाने के सहित 12 आरोपों में 11 साल जेल की सजा काट चुका है और पिछले साल जून में ही रिहा हुआ था और अब एक साल के भीतर ही वह फिर कानूनी पचड़े में फंस गया है। सुगुमार एक स्कूल में साफ-सफाई का काम करता है।

खबर के अनुसार, राष्ट्रीय पर्यावरण एजेंसी (एनईए) के अधिकारी (24) और उसके सहकर्मी सलविन कौर मिंदर सिंह (23) ने 30 मई को एक व्यक्ति को वहां धूम्रपान करते देखा था, जहां तीन किलोमीटर तक ‘धूम्रपान निषेध’ का बोर्ड लगा था।
अधिकारियों ने सुगुमार की पहचान कर उसे अदालत में पेश होने के लिए समन किया था। इसके बाद उसने (सुगुमार ने) तमिल में गुगन को अपशब्द कहे, उसे टक्कर मारी और फिर उसे थप्पड़ भी मारा।
इसी दौरान एक अन्य अधिकारी के साथ वहां नियमित गश्त पर निकलने सार्जेंट क्रिस्चियन तान कैई जून ने एनईए के कर्मियों को मदद के लिए पुकारते हुए देखा। सार्जेंट क्रिस्चियन के सुगुमार को रोकने का प्रयास करने पर उसने पुलिस अधिकारी का हाथ भी झटक दिया।

सुगुमार ने तमिल में गुगन को कहा, ‘मैं तुम्हें देख लूंगा’ और यह भी कहा कि वह उसी के हाथों ‘मरेगा।’ नर्मी की मांग करते हुए आरोपी के वकील हरजीत कौर ने डिस्ट्रिक्ट जज इमरान अब्दुल हमीद से कहा कि उनके मुवक्किल ने नशे की हालत में यह सब कहा था। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान ...

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान भी जरूर जान लें
लिप बाम सौंदर्य प्रसाधन में आज एक ऐसा प्रोडक्ट बन चुका है, जिसके बिना किसी लड़की व महिला ...

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना
पति-पत्नी के बीच घर के दैनिक कार्य को लेकर, नोकझोंक का सामना रोजाना होता हैं। पति का ...

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव
मिर्च-मसाले वाले पदार्थ अधिक सेवन करने से एसिडिटी होती है। इसके अतिरिक्त कई कारण हैं ...

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा
सबसे पहले साबूदाने को 2-3 बार धोकर पानी में 1-2 घंटे के लिए भिगो कर रख दें।

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें
हर बार आप सैलून में ही जाकर अपने बालों को कलर करवाएं, यह संभव नहीं है। बेशक कई लोग हमेशा ...

मछली खाने से कैंसर और हृदय रोग होने का खतरा कम, रिसर्च का ...

मछली खाने से कैंसर और हृदय रोग होने का खतरा कम, रिसर्च का दावा
बीजिंग। ओमेगा-थ्री फैटी एसिड युक्त मछली या अन्य खाद्य वस्तुएं खाने से कैंसर या हृदय ...

नीरज की जीवनी : जीवन से रचे बसे गीत की रचना में माहिर थे ...

नीरज की जीवनी : जीवन से रचे बसे गीत की रचना में माहिर थे गोपाल दास नीरज
मुंबई। भारतीय सिनेमा जगत में गोपाल दास नीरज का नाम एक ऐसे गीतकार के तौर पर याद किया जाएगा ...

हल्दी में मक्के का पाउडर, मिर्च में चावल की भूसी... घातक है ...

हल्दी में मक्के का पाउडर, मिर्च में चावल की भूसी... घातक है मिलावट का बाजार, कर रहा है सेहत पर अत्याचार
मिलावटी सामान बेचकर लोगों को ठगा जा रहा है, साथ ही उनके स्वास्थ्य के साथ भी खिलवाड़ किया ...

नदी को धर्म मानने से ही गंगा को बचाना संभव

नदी को धर्म मानने से ही गंगा को बचाना संभव
दुनिया की सबसे पवित्र मानी जाने वाली नदी होने के साथ ही गंगा दुनिया की सबसे प्रदूषित ...

क्या आपके हाथों का रंग, चेहरे के रंग से मेल नहीं खाता? तो ...

क्या आपके हाथों का रंग, चेहरे के रंग से मेल नहीं खाता? तो आजमाएं आसान से 5 घरेलू उपाय
आइए, आपको हम कुछ आसान से घरेलू उपाय बताते हैं जिन्हें आजमाने पर आपके हाथों का रंग भी आपके ...