महिलाओं को भी दी जाए स्वर्ण मंदिर में ‘शबद’ गाने की अनुमति


वॉशिंगटन|
 
 
वॉशिंगटन। सिख-अमेरिकियों ने प्रस्ताव रखा है कि को मजबूत बनाने में  महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका को पहचानते हुए में उन्हें भी ‘शबद’ गाने की  अनुमति दी जानी चाहिए।
 
अमेरिका और कनाडा के 7 से 17 वर्ष के आयुवर्ग के करीब 120 सिख वॉशिंगटन के  मैरीलैंड उपनगर में एकत्र हुए और उन्होंने सवाल उठाया कि में सिख महिलाएं  कीर्तन’ क्यों नहीं करतीं।
 
सिख-अमेरिकी रजवंत सिंह ने कहा कि कई ऐतिहासिक संदर्भों से यह बात स्पष्ट है कि 5वें  सबसे बड़े धर्म की सफलता में सिख महिलाओं का अहम योगदान है और यह अत्यंत  महत्वपूर्ण है कि हम उन्हें सिख मामलों में वह भूमिका सौंपें जिसकी वे हकदार हैं। उन्हें  सिख धर्म के केंद्र दरबार साहिब, स्वर्ण मंदिर में ‘शबद’ गाने की अनुमति दी जानी चाहिए।  इस सिख युवा शिविर का आयोजन वॉशिंगटन स्थित गुरु गोविंद सिंह फाउंडेशन ने किया  था।
 
दंत चिकित्सा की छात्रा सहजनीत कौर ने कहा कि यदि सिख महिलाएं योगदान नहीं देतीं  तो वहां नहीं पहुंच पाता, जहां वह इस समय है इसलिए हमें उनके योगदान को  मान्यता देनी चाहिए। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :