नरेन्द्र मोदी की सफलता का यह है राज

नरेन्द्र मोदी ने 2014 के चुनावों में भाजपा को प्रचंड जीत दिलाई। भाजपा ने मोदी को चेहरा बनाकर लोकसभा का चुनाव लड़ा था। प्रचार के दौरान मोदी ने धुंआधार सभाएं कीं। उनके प्रचार की आक्रामक शैली ने कांग्रेस को बैकफुट पर ला दिया। बच्चों से लेकर बुर्जुग तक की जुबां पर एक ही नाम था- 'मोदी'। सभाओं में उमड़े जनसैलाब ने बता दिया कि मोदी के व्यक्तित्व में कितना आकर्षण है। प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी का जादू आज भी बरकरार है। अब मोदी का यह जादू दुनियाभर में सर चढ़कर बोल रहा है। आइए जानते हैं नरेन्द्र मोदी के इन खास गुणों को-  
 
 
1. असाधारण भाषण कला  : मोदी की सबसे बड़ी और असाधारण बात उनकी भाषण कला है और वे अपनी इस कला से  श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करना जानते हैं। विकास और अन्य मुद्दों पर वे जितनी स्पष्टता और प्रभावी तरीके से अपनी बात  रखते हैं कि बिना किसी तैयारी के उनका आशु भाषण भी लोगों को प्रभावित करने की क्षमता रखता है। देश के अन्य  नेताओं की तरह से लिखा हुआ भाषण नहीं पढ़ते हैं। उनकी विशेषता है कि वे अपनी वाक शैली से किसी भी प्रकार के  श्रोता वर्ग से अपना संबंध बना लेते हैं। 
 
2. करिश्मा : प्रधानमंत्री मोदी की एक और बड़ी खूब‍ी है कि वे किसी विश्वस्तरीय नेता जैसा करिश्मा रखते हैं। उनका व्यक्तित्व मजबूत है और देश के ज्यादातर लोगों ने ऐसे ही प्रधानमंत्री देखे हैं जो कि लोगों के सामने से अदृष्य रहते रहे  हैं। देश के 35 वर्ष से कम आयु के युवाओं की नजर में वे ऐसे मजबूत नेता हैं जिनके नेतृत्व में देश विकास के मार्ग  पर आगे बढ़ सकता है। 
 
3. त्वरित निर्णय क्षमता :  मोदी की एक खूबी यह भी है कि वे तुरंत ही निर्णय लेने के लिए जाने जाते हैं। यह क्षमता  भारत के नेताओं में बहुत कम पायी जाती है और इस कारण से उन नेताओं से अलग हैं जोकि किन्हीं मजबूरियों के  चलते फैसले नहीं लेते या लेने में बहुत अधिक समय लगा देते हैं। वे न‍िर्णय लेने के बारे में नो नन सेंस अप्रोच रखते हैं  और इस निर्णयों पर तुरंत क्रियान्वयन भी सुनिश्चित करना जानते हैं।  
अगले पन्ने पर, इस गुण के सभी हैं कायल...
 
 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

खुशखबर, अब घर बैठे मिलेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानिए कितना ...

खुशखबर, अब घर बैठे मिलेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानिए कितना लगेगा खर्च...
नई दिल्ली। दिल्ली सरकार अगले महीने से दिल्लीवासियों को 50 रुपए के अतिरिक्त शुल्क पर जन्म ...

सावधान, आएगा भयावह भूकंप, मचा देगा तबाही

सावधान, आएगा भयावह भूकंप, मचा देगा तबाही
देहरादून। भूगर्भीय हलचल और इसके प्रभावों का विश्लेषण करने वाले, देश के चार बड़े संस्थानों ...

सात दिनों तक रेडिएटर का पानी पीकर बचाई जान

सात दिनों तक रेडिएटर का पानी पीकर बचाई जान
वॉशिंगटन। अमेरिका में कैलिफोर्निया तट के पास एक चोटी के नीचे भीषण दुर्घटना का शिकार हुई ...

ट्विटर पर मचा कत्लेआम

ट्विटर पर मचा कत्लेआम
माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने टाइप किया है कि वह एक हफ्ते का सफाई अभियान चलाएगा। इसकी ...

नौकरी छूटने पर कब और कितना EPF निकाल पाएंगे

नौकरी छूटने पर कब और कितना EPF निकाल पाएंगे
एंप्लॉयी प्रोविडेंट फंड यानी ईपीएफ़ के ज़रिए कर्मचारी प्रॉविडेंट फंड के तहत भविष्य के लिए ...

एसबीआई ने 70 हजार कर्मचारियों से वापस मांगा ओवर टाइम का

एसबीआई ने 70 हजार कर्मचारियों से वापस मांगा ओवर टाइम का पैसा
देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने 70 हजार कर्मचारियों से ओवर टाइम के ...

अमरनाथ यात्रा के दौरान दिल दे रहा है दगा, अब तक 20 की मौत

अमरनाथ यात्रा के दौरान दिल दे रहा है दगा, अब तक 20 की मौत
श्रीनगर। अमरनाथ यात्रा में शामिल होने वालों का दिल फिर से दगा दे रहा है। नतीजतन यात्रा ...

अमरनाथ हिमलिंग पिघलकर आधा हुआ

अमरनाथ हिमलिंग पिघलकर आधा हुआ
श्रीनगर। बीस दिनों के भीतर ही अमरनाथ यात्रा का प्रतीक हिमलिंग पिघलकर आधा रह गया है। ऐसा ...

विमान यात्रियों की जेब होगी ढीली, 'अतिरिक्त शुल्क' से महंगा ...

विमान यात्रियों की जेब होगी ढीली, 'अतिरिक्त शुल्क' से महंगा होगा विमान का सफर
नई दिल्ली। हवाई अड्डों पर व्यस्त समय के दौरान एयरलाइन कंपनियों को स्लॉट के इस्तेमाल के ...

प्रधानमंत्री मोदी की अपील, सदन चलाने में सहयोग करे विपक्ष

प्रधानमंत्री मोदी की अपील, सदन चलाने में सहयोग करे विपक्ष
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी विपक्षी दलों से संसद का मानसून सत्र सुचारू ...