वाइस चीफ एयर मार्शल ने राफेल में भरी उड़ान, IAF के लिए गेम चेंजर साबित होगा विमान

पुनः संशोधित शुक्रवार, 12 जुलाई 2019 (10:51 IST)
नई दिल्ली। भारतीय वायु सेना (IAF) के आरकेएस भदौरिया ने फ्रांस में लड़ाकू विमान में उड़ान भरी। उन्होंने कहा कि यह एक बहुत अच्छा अनुभव था। यहां हमने इससे जुड़े कई पाठ सीखे हैं कि कैसे हम राफेल का भारतीय वायु सेना में बेहतर उपयोग कर सकते हैं? इसके अलावा हम यह भी जानेंगे कि एसयू-30 के साथ इसका संयोजन किस तरह किया जा सकता है?'
भदौरिया ने कहा, 'भारतीय वायु सेना में टेक्नालॉजी और हथियार के रुप में राफेल एक बार फिर गेम चेंजर साबित होगा' आने वाले सालों में यह आक्रामक मिशनों और युद्ध जैसी स्थितियों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा'

उन्होंने कहा कि भारत के लिए राफेल विमान रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगा। उन्होंने कहा कि इस विमान के वायुसेना में शामिल होते ही राफेल और सुखोई की जोड़ी तनाव के समय दुश्मन को परेशान करने के लिए काफी होगी।
उल्लेखनीय है कि हाल ही में फ्रांस के राजदूत अलेक्जेंडर जीगलर ने कहा था कि भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान दो महीनों के अंदर सौंप दिया जाएगा। उन्होंने बताया था कि भारतीय वायुसेना को सभी 36 राफेल लड़ाकू विमान अगले दो साल में सौंप दिए जाएंगे।

 

और भी पढ़ें :