मलेशिया में फंसा भारतीय परिवार, सुषमा बनीं मददगार

नई दिल्ली| पुनः संशोधित शनिवार, 28 अक्टूबर 2017 (15:16 IST)
नई दिल्ली। संकट में घिरे व्यक्तियों की मदद की गुहार पर एक बार फिर त्वरित प्रतिक्रिया करते हुए विदेश मंत्री कुआलालंपुर के एक की मदद के लिए आगे आईं।
विदेश मंत्री से कुआलालंपुर में एक भारतीय परिवार ने मदद मांगी थी, जिसके जवाब में उन्होंने कुआलालंपुर स्थित भारतीय दूतावास को परिवार की मदद करने का निर्देश दिया और सप्ताहांत में अवकाश होने के बावजूद दूतावास को भारतीय परिवार को यात्रा दस्तावेज उपलब्ध कराने के लिए कहा।
सुषमा की यह प्रतिक्रिया किसी मीरा रमेश पटेल की गुहार पर आई थी। मीरा ने सुषमा से दखल देने की मांग करते हुए कहा था कि उनका परिवार हवाईअड्डा पर है और उनका पासपोर्ट खो गया है।

मंत्री ने ट्वीट किया, 'मलेशिया में भारतीय दूतावास : यह एक आपात मामला है। कृपया दूतावास खोलें और भारतीय परिवार की मदद करें।' सुषमा के अनुरोध के जवाब में मलेशिया स्थित भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया
कि परिवार के सदस्यों से संपर्क कर लिया गया है और मामला सुलझाया जा रहा है।
इससे पहले केंद्रीय मंत्री को किये अपने ट्वीट में मीरा ने लिखा, 'सुषमा स्वराज मैम मेरा परिवार मलेशिया हवाईअड्डा पर है और उनका पासपोर्ट खो गया है। सप्ताहांत होने के कारण भारतीय दूतावास बंद है। कृपया मदद करें।'

एक अन्य ट्वीट में अनुषा धुलिपाला ने बताया कि वह अमेरिका में पढ़ती है और उसका पासपोर्ट खो चुका है, जिसके कारण वह कहीं यात्रा नहीं कर सकती। उसने लिखा, 'सुषमा स्वराज मुझे वाकई में आपकी मदद की जरूरत है क्योंकि उनका कहना है कि मुझे अपना वीजा लाने के लिए भारत जाना होगा और इस वक्त मेरी परीक्षाएं चल रही हैं और मैं बिना पासपोर्ट के जल्द यात्रा नहीं सकती।'

इस मामले में विदेश मंत्री ने वाशिंगटन स्थित भारतीय दूतावास से अपना पासपोर्ट खो चुकी इस भारतीय छात्रा की मदद करने का अनुरोध किया। (भाषा)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :