देश का लोकतंत्र खतरे में, क्यों बोले देश के चार बड़े जज

नई दिल्ली| Last Updated: शुक्रवार, 12 जनवरी 2018 (15:47 IST)
नई दिल्ली। एक अभूतपूर्व घटनाक्रम में के चार न्यायाधीशों ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि देश की सर्वोच्च अदालत की कार्यप्रणाली में प्रशासनिक व्यवस्थाओं का पालन नहीं किया जा रहा है और मुख्य न्यायाधीश द्वारा न्यायिक पीठों को सुनवाई के लिए मुकदमे मनमाने ढंग से आवंटित करने से न्यायपालिका की विश्वसनीयता पर दाग लग रहा है।
उच्चतम न्यायालय में दूसरे वरिष्ठतम न्यायाधीश जस्ती चेलमेश्वर ने न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर और न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ के साथ आज सुबह अपने तुगलक रोड स्थित आवास पर प्रेस कांफ्रेंस में ये आरोप लगाए। उन्होंने मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा को इसके लिए सीधे जिम्मेदार ठहराया।

इन न्यायाधीशों ने न्यायमूर्ति मिश्रा को लिखे एक पत्र में कहा कि मुख्य न्यायाधीश का पद समान स्तर के न्यायाधीशों में पहला होता है। उन्होंने पत्र में लिखा कि तय सिद्धांतों के अनुसार मुख्य न्यायाधीश को रोस्टर तय करने का विशेष अधिकार होता है और वह न्यायालय के न्यायाधीशों या पीठों को सुनवाई के लिए मुकदमे आवंटित करता है।
मुख्य न्यायाधीश को यह अधिकार अदालत के सुचारु रूप से कार्य संचालन एवं अनुशासन बनाए रखने के लिए है ना कि मुख्य न्यायाधीश के अपने सहयोगी न्यायाधीशों पर अधिकारपूर्ण सर्वोच्चता स्थापित करने के लिए। इस प्रकार से मुख्य न्यायाधीश का पद समान स्तर के न्यायाधीशों में पहला होता है, न उससे कम और न उससे अधिक।
उन्होंने चुनिंदा ढंग से मुकदमे सुनवाई के लिए चुनिंदा न्यायाधीशों को आवंटित किए जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि रोस्टर तय करने के लिए परिभाषित प्रक्रिया एवं परंपराएं मुख्य न्यायाधीश को दिशानिर्देशित करती हैं जिनमें किन प्रकार के मुकदमों की सुनवाई के लिए कितने न्यायाधीशों की पीठ बनाई जाए, उसकी परंपराएं भी शामिल हैं।

न्यायाधीशों ने कहा कि इन परंपराओं एवं नियमों की अवहेलना से ना केवल अप्रिय स्थिति बनेगी बल्कि संस्था की विश्वसनीयता प्रभावित होगी और गंभीर परिणाम होंगे। पत्र में उन्होंने कहा कि ऐसे कई उदाहरण हैं जिनके देश और न्यायपालिका पर दूरगामी परिणाम पड़े हैं।
उन्होंने कहा कि मुख्य न्यायाधीश ने कई मुकदमों को बिना किसी तार्किक आधार के 'अपनी पसंद' के हिसाब से पीठों को आवंटित किया है। ऐसी बातों को हर कीमत पर रोका जाना चाहिए। उन्होंने यह भी लिखा कि न्यायपालिका के सामने असहज स्थिति पैदा ना हो, इसलिए वे अभी इसका विवरण नहीं दे रहे हैं, लेकिन इसे समझा जाना चाहिए कि ऐसे मनमाने ढंग से काम करने से संस्था की छवि कुछ हद तक धूमिल हुई है।
न्यायाधीशों ने कहा कि इस बात को बहुत गंभीर चिंता के विषय के रूप में लिया जाना चाहिए। मुख्य न्यायाधीश अन्य न्यायाधीशों से परामर्श करके इस स्थिति को ठीक करने और उसके लिए समुचित कदम उठाने के लिए कर्तव्यबद्ध हैं। (वार्ता)


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

कठुआ गैंगरेप मामला, पीड़िता की वकील को भी रेप का डर

कठुआ गैंगरेप मामला, पीड़िता की वकील को भी रेप का डर
जम्मू। बहुचर्चित रसाना मामले में नए मोड़ आ रहे हैं। अगर जम्मू की जनता मामले की जांच सीबीआई ...

टीवी के जरिए होगी आप पर सरकार की नजर

टीवी के जरिए होगी आप पर सरकार की नजर
नई दिल्ली। सरकार की नजर अब लोगों के टीवी सेट पर भी पहुंचने वाली है। सूचना व प्रसारण ...

नहीं रखने चाहिए बच्चों के ये नाम, वर्ना पछताएंगे

नहीं रखने चाहिए बच्चों के ये नाम, वर्ना पछताएंगे
हिंदुओं में वर्तमान में यह प्रचलन बढ़ने लगा है कि वे अपने बच्चों के नाम कुछ हटकर रखने लगे ...

इन पांच वज़हों से होते हैं बलात्कार

इन पांच वज़हों से होते हैं बलात्कार
जम्मू के कठुआ में आठ साल की बच्ची आसिफा के बलात्कार के बाद नृशंस हत्या से पूरा भारत ...

3 बड़ी बीमारियों का इलाज है लौकी के छिलके

3 बड़ी बीमारियों का इलाज है लौकी के छिलके
लौकी ही नहीं उसका छिलका भी कुछ समस्याओं के लिए कारगर औषधि है। जानिए कौन सी 3 समस्याओं का ...

रेलवे की 90,000 नौकरियों के लिए करोड़ों दावेदार

रेलवे की 90,000 नौकरियों के लिए करोड़ों दावेदार
नई दिल्ली। रेल मंत्रालय ने बताया ‍कि रेलवे को 90,000 पदों के लिए 2.37 करोड़ से अधिक आवेदन ...

आसाराम पर फैसला, जानिए पूरा घटनाक्रम...

आसाराम पर फैसला, जानिए पूरा घटनाक्रम...
नाबालिग से यौन शोषण के आरोप में 5 साल से भी ज्यादा समय से जेल में बंद आसाराम पर 25 अप्रैल ...

मॉडल से छेड़छाड़ के आरोप में दो गिरफ्तार, वारदात की कहानी पर ...

मॉडल से छेड़छाड़ के आरोप में दो गिरफ्तार, वारदात की कहानी पर सवाल
इंदौर। मॉडल से सरेराह छेड़छाड़ के बहुचर्चित मामले में पुलिस ने मंगलवार रात यहां दो युवकों ...

क्या येदियुरप्पा होंगे मोदी-शाह की जोड़ी के अगले शिकार...

क्या येदियुरप्पा होंगे मोदी-शाह की जोड़ी के अगले शिकार...
नई दिल्ली। कांग्रेस ने भाजपा द्वारा कर्नाटक विधानसभा की वरूणा सीट से पार्टी के कद्दावर ...

नाइजीरिया में चर्च पर हमला, 18 की मौत

नाइजीरिया में चर्च पर हमला, 18 की मौत
माकुर्दी। मध्य नाइजीरिया में एक चर्च में मंगलवार सुबह हुए एक हमले में दो पादरियों सहित कम ...

वीवो का धमाकेदार सेल्फी फोन वीवो वी 9, ये हैं फीचर्स

वीवो का धमाकेदार सेल्फी फोन वीवो वी 9, ये हैं फीचर्स
चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी वीवो ने पिछले महीने भारत में अपना नया सेल्फी स्मार्टफोन ...

सस्ते Nokia 1 के साथ जियो का कैश बैक ऑफर

सस्ते Nokia 1 के साथ जियो का कैश बैक ऑफर
एचएमडी ग्लोबल ने एंड्राइड गो एडिशन के स्मार्टफोन्स के पहले बैच में Nokia 1 फोन को भारत ...

Xiaomi Redmi 5, सस्ता फोन, दमदार फीचर्स

Xiaomi Redmi 5, सस्ता फोन, दमदार फीचर्स
चीनी मोबाइल कपंनी ने भारतीय बाजार में एक और किफायती फोन लांच किया है। नए रेडमी 5 की कीमत ...

दो रियर कैमरों वाला सस्ता स्मार्ट फोन, जानिए फीचर्स

दो रियर कैमरों वाला सस्ता स्मार्ट फोन, जानिए फीचर्स
भारतीय कंपनी स्वाइट टेक्नोलॉजीज ने एक नया स्मार्टफोन लांच किया है। Swipe Elite Dual नाम ...

Nokia के इस स्मार्टफोन पर मिल रहा है भारी डिस्काउंट

Nokia के इस स्मार्टफोन पर मिल रहा है भारी डिस्काउंट
भारत में Nokia 6 के 3जीबी रैम वेरिएंट की कीमत पर जबर्दस्त डिस्काउंट मिल रहा है। ...