Widgets Magazine

ग्राहकों के लिए हितप्रद होगा एसबीआई में बैंकों का विलय

नई दिल्ली| पुनः संशोधित शुक्रवार, 17 मार्च 2017 (16:11 IST)
नई दिल्ली। वित्त राज्यमंत्री संतोष गंगवार ने भरोसा दिलाया है कि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के 5 सहायक बैंकों के विलय से मौजूदा ग्राहकों के हित प्रभावित नहीं होंगे। शुक्रवार को लोकसभा में अतारांकित प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि विलय की प्रक्रिया को मंत्रिमंडल की मंजूरी मिलने के बाद तय रूपरेखा के कार्यान्वयन की प्रक्रिया चल रही है।
 
ज्ञात हो कि इसके तहत स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला और स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर का में आगामी 1 अप्रैल तक विलय का लक्ष्य है।
 
सांसद सौगत राय के प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि विलय के बाद सहायक बैंकों के मौजूदा ग्राहकों को एसबीआई के वैश्विक सेवा नेटवर्क से हर तरह की सहायता मिलेगी, हालांकि गंगवार ने एसबीआई से इतर सार्वजनिक क्षेत्र के अन्य बैंकों के भी विलय की योजना के सवाल का कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि इस विलय से एसबीआई की वित्तीय एवं ग्राहक सेवा दक्षता में गुणात्मक सुधार होगा। (भाषा)
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine