हुनरमंद है CBSE की टॉपर रक्षा गोपाल

Last Updated: रविवार, 28 मई 2017 (19:43 IST)

रक्षा गोपाल श्रीनिवासन
नई दिल्ली। परीक्षा में 12वीं कक्षा की नोएडा की पूर्ण अंक पाने से महज 2 अंक पीछे रहीं। उन्होंने परीक्षा में 99.6 फीसदी अंक हासिल किए। रक्षा गोपाल को 500 में से 498 अंक मिले। उन्हें सिर्फ इंग्लिश में 100 में से 98 अंक मिले जबकि अन्य सभी विषयों में 100 में से 100 अंक प्राप्त हुए।

रक्षा की प्रतिभा अकादमिक क्षेत्र से कहीं आगे है। वह इन दिनों फ्रेंच भाषा सीख रही हैं, इसके अलावा लंदन के ट्रिनिटी कॉलेज ऑफ म्यूजिक से संबद्धता रखने वाले दिल्ली के एक संस्थान से इलेक्ट्रिक की-बोर्ड में उन्होंने 5 स्तर पूरे कर लिए हैं।

नोएडा के एमिटी इंटरनेशनल स्कूल की छात्रा 17 वर्षीय रक्षा ने बताया कि उन्होंने कड़ी मेहनत की लेकिन टॉपर बनना उनका लक्ष्य नहीं था। उन्होंने कहा कि मैंने कड़ी मेहनत की और सभी विषयों पर ध्यान केंद्रित किया लेकिन न तो कल्पना की थी और न ही मेरा लक्ष्य टॉप रैंक हासिल करना था। उन्हें इंग्लिश कोर, पॉलिटिकल साइंस और इकोनॉमिक्स में पूरे-पूरे अंक मिले हैं। वे पॉलिटिकल साइंस ऑनर्स करना चाहती हैं।
रक्षा ने कहा कि मैं लेडी श्रीराम कॉलेज, मिरांडा हाउस या जीजस एंड मैरी कॉलेज में से किसी एक में प्रवेश लेना चाहती हूं। उनके पिता गोपाल श्रीनिवासन (52) गुजरात राज्य पेट्रोलियम निगम में मुख्य वित्त अधिकारी हैं। वे कहते हैं कि उन्होंने कभी भी रक्षा पर अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव नहीं बनाया।

अखिल भारतीय स्तर पर दूसरी टॉपर चंडीगढ़ की विज्ञान की छात्रा हैं और उन्होंने 99.4 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। भूमि ने अपनी कामयाबी के बारे में कहा कि पहले तो कुछ भी समझ नहीं आ रहा था लेकिन बाद में टीचर्स और पैरेंट्‍स के मार्गदर्शन के बाद सब चीजें आसान होती चली गई।
तीसरे स्थान पर वाणिज्य
की छात्रा मन्नत लूथरा और एकसाथ हैं। उन्हें 99.2 फीसदी अंक प्राप्त हुए हैं।
मन्नत ने कहा कि सफलता पाने के लिए कोई शॉर्टकट नहीं होता। मैंने मेहनत की और ट्‍यूशंस भी ली। मैंने खुद को सोशल मीडिया से दूर कर लिया था और पूरा ध्यान पढ़ाई पर केंद्रित कर लिया था।

सेक्टर 8 में डीएवी स्कूल की छात्रा भूमि को फिजिक्स, केमेस्ट्री, मैथ्स और कम्प्यूटर साइंस में पूरे 100 अंक जबकि इंग्लिश में 97 अंक मिले हैं। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने चारों टॉपरों को बधाई दी।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :