पाकिस्तानी सेना बौखलाई, पुंछ में गोलीबारी

जम्मू। अपने चार सैनिकों के मारे जाने के बाद पाकिस्तानी सेना इस कदर बौखलाई हुई है कि वह एलओसी पर लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रही है। पाक की ओर से आज पुंछ के डिग्वार सेक्टर में भारी गोलाबारी की गई है। हालत यह है कि सीजफायर का लगातार उल्लंघन करने के साथ ही वह एलओसी पर अतिरिक्त सैनिक तथा सैनिक साजो-सामान एकत्र कर युद्ध का माहौल पैदा करने में जुटी हुई है।

जानकारी के मुताबिक, पाक की ओर से रात के लगभग 1.30 से लेकर सुबह के 7 बजे तक रूक-रूककर गोलाबारी की गई। पाक सैनिकों ने भारत की अग्रिम चौकियों के साथ रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर भारी गोलाबारी की है।

हालांकि इस गोलाबारी में किसी भी तरह की जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है। पाक की इस गोलाबारी का भारतीय सेना ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया। गौरतलब है कि पाक ने कल भी राजौरी के नौशहरा सेक्टर में भारतीय जवानों को निशाना बनाकर एलओसी पर भारी गोलाबारी की थी। एलओसी पर दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव को देखते हुए अलर्ट रहने के निर्देश दे दिए गए हैं। गोलाबारी के कारण एलओसी पर रहने वालों लोगों में दहशत का माहौल बन गया है।

इस बीच भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में नौशहरा व पुंछ सेक्टर के उस पार रावलकोट सेक्टर में पाक सैनिकों के मारे जाने के बाद एलओसी पर दोनों देशों की सेनाओं के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। पाक सेना एलओसी के उस पार अपनी हलचल को तेज करते हुए अतिरिक्त जवानों को तैनात करने में जुट गई है। इसके अलावा एलओसी पार भारी हथियारों को भी तैनात किया जा रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पाकिस्तानी सेना ने साब्जियां, शाहपुर, किरनी, बालाकोट, तारकुंडी, हमीरपुर, बलनोई, लाम, झंगड़, भवानी, कलाल आदि सेक्टरों के उस पार अपनी हलचल मंगलवार दोपहर से काफी तेज कर दी हुई है।

पाक सेना के उच्च अधिकारी लगातार एलओसी का दौरा कर रहे हैं और जवानों को निर्देश जारी कर रहे हैं। एलओसी पार पाक सेना के वाहनों का एलओसी के करीब आना लगातार जारी है। इसके साथ-साथ पाक सेना एलओसी के उस पार भारी हथियारों को भी तैनात करने में मंगलवार दोपहर से ही जुटी हुई है।

जिस तरह से पाक सेना की गतिविधियां एलओसी पार चल रही हैं उससे यह बात साफ हो रही है कि पाक सेना किसी बड़ी योजना को अंजाम देने के फिराक में कार्य कर रही है। वहीं भारतीय सेना ने एलओसी पर अपने जवानों को चौकस रहने के आदेश जारी कर दिए हैं और भारतीय सेना के उच्च अधिकारी भी लगातार एलओसी का दौरा कर व एलओसी पर मौजूद रहकर सीमा के हालात पर अपनी नजर रखे हुए हैं।

उत्तरी कमान प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल डी अनबू व 16 कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल सरनजीत सिंह ने बुधवार को राजौरी सेक्टर के अग्रिम क्षेत्रों का दौरा कर जवानों व अधिकारियों के साथ मुलाकात कर उनका मनोबल भी बढ़ाया। इसके साथ उन्होंने सेना के उच्चाधिकारियों के बैठक कर ताजा हालात की समीक्षा की और एलओसी पर सैन्य तैयारी पर भी चर्चा की।

बुधवार दोपहर को उत्तरी कमान प्रमुख व 16 कोर के कमांडर 25 डिवीजनल के अधिकारियों के साथ राजौरी के अग्रिम क्षेत्र में पहुंचे। इसके बाद उत्तरी कमान प्रमुख ने 25 डिवीजन में सेना के अधिकारियों के साथ बैठक कर एलओसी पर किसी भी प्रकार के हमले से निपटने के लिए की जा रही तैयारी पर चर्चा की। इससे पहले 16 दिसंबर को भी उत्तरी कमान प्रमुख ने राजौरी का दौरा किया था और 23 दिसंबर को केरी में पाक गोलाबारी में सेना के मेजर सहित चार जवान शहीद हो गए थे।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :