#Metoo अभियान ने पकड़ा तूल, अकबर और अभिनेता आलोक नाथ के साथ नए नाम भी निशाने पर आए

Last Updated: सोमवार, 15 अक्टूबर 2018 (20:09 IST)
नई दिल्ली/ मुंबई। में जारी 'मी टू' अभियान ने बुधवार को और तूल पकड़ लिया और कई महिलाओं ने अपने अनुभवों को सार्वजनिक तौर पर साझा किया, जबकि केंद्रीय मंत्री और के साथ नए नाम भी इसके निशाने पर आए।

कांग्रेस भी इस चर्चा में शामिल हो गई। उसने मांग की कि केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर यौन उत्पीड़न के आरोपों पर संतोषजनक स्पष्टीकरण दें या तत्काल इस्तीफा दें। मोदी सरकार अब भी इस पर खामोशी बनाए है। कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद से आज संवाददाता सम्मेलन में जब इस पर सवाल किया गया तो उन्होंने इस पर कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

कई हस्तियां चपेट में : कैलाश खेर, रघु दीक्षित, कमेंटेटर सुहेल सेठ और महिला कॉमिक स्टार अदिति मित्तल भी आज ‘मी टू’ की चपेट में आए, जिन पर यौन उत्पीड़न, बदसलूकी, गलत तरीके से छूने जैसे आरोप लगे। महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा है कि किसी के भी खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों को गंभीरता से लिया जाना चाहिए क्योंकि आमतौर पर महिलाएं इस बारे में बोलने से डरती हैं।

संध्या मृदुल ने बाबूजी पर लगाया लांछन : सज्जन पुरुष के तौर पर पहचाने वाले के बाबूजी उर्फ आलोक नाथ जो पहले से ही यौन शोषण के आरोपों में घिरे हैं, उन पर आज अदाकारा संध्या मृदुल ने भी यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए। नाथ ने टेलीफिल्म में मृदुल के पिता का किरदार निभाया था। इसमें दिवंगत रीमा लागू उनकी मां बनी थीं। इसकी शूटिंग कोडैकनाल में हुई थी।

आलोक नाथ पर जब चढ़ा शराब का सुरूर : मृदुल ने लिखा है कि एक दिन जब शूटिंग जल्दी समाप्त हो गई और टीम रात को खाना खाने गई तो सीनियर कलाकार ने बहुत ज्यादा शराब पी ली और वहां से चीजें बिगड़ गईं। अदाकारा ने लिखा, उन्होंने जोर दिया कि मैं उनके साथ बैठूं लेकिन मैं बहुत असहज हो गई। मेरे साथी कलाकारों ने समझा कि क्या हो रहा है और उन्होंने वहां से मुझे निकाला।

बाबूजी उर्फ आलोक नाथ चिल्लाए, तुम मेरी हो : उन्होंने यह भी बताया कि होटल लौटने के कुछ समय बाद नाथ नशे की हालत में कमरे तक पहुंच गए। मृदुल ने दरवाजा बंद करने की कोशिश की लेकिन नाथ ने धक्का दिया और मेरी तरफ आने लगे। उन्होंने चिल्लाना शुरू कर दिया कि मैं तुम्हें चाहता हूं, तुम मेरी हो।

एक महिला का दूसरी महिला पर आरोप : कनीज सुरका ने बुधवार को कॉमेडियन अदिति मित्तल पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाते हुए कहा कि दो वर्ष पहले उन्होंने जबरन उनके होंठों को चूमा था। घटना से जुड़ी जानकारी ट्विटर पर साझा करते हुए सुरका ने लिखा, मैं अंधेरी में दो वर्ष पहले एक कॉमेडी शो की मेजबानी कर रही थी। करीब 100 दर्शकों और अन्य कॉमेडिन की मौजूदगी में अदिति मित्तल स्टेज पर आईं और जबरन मेरे होंठों पर चूमा और अपनी जीभ मेरे मुंह में डाली, जबकि मैं मंच पर स्तब्ध खड़ी थी।

उन्होंने मेरी सीमाओं का उल्लंघन किया : उन्होंने लिखा कि मुझे बहुत बेइज्जती महसूस हुई और मुझे समझ ही नहीं आया कि क्या करूं। हर इंसान को अपनी पसंद और सीमाएं तय करने का हक है और उन्होंने मेरी सीमाओं का उल्लंघन किया। सुरका ने कहा कि मित्तल के सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने पर उनके लिए मामला खत्म हो जाएगा। मित्तल ने सुरका के ट्वीट को रीट्वीट किया लेकिन मामले पर कोई बयान जारी नहीं किया। भारत में ‘मी टू’ अभियान में यह पहला मौका है जब कोई महिला सवालों के घेरे में है।

रघु दीक्षित बोले- मैं शिकारी नहीं : दुर्व्यवहार के आरोपियों में ताजा नाम गायक रघु दीक्षित का जुड़ गया है। रघु ने बुधवार को कहा कि उनके खिलाफ आरोप लगाने वाली शख्सियत का ब्यौरा बहुत हद तक सही है लेकिन वह शिकारी नहीं हैं। गायक ने कहा कि उन्होंने स्थिति के बारे में पूरी तरह से गलत अनुमान लगाया था और फौरन ही संबंधित शख्सियत से माफी मांग ली थी और फिर से निजी तौर पर भी माफी मांग लेंगे। बहुभाषी लोकगीत बैंड के मुख्य गायक दीक्षित पर एक गुमनाम महिला ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया जिसके ब्यौरे को साथी गायिका चिन्मई श्रीपदा ने ट्विटर पर साझा किया।

अनुराग कश्यप ने मामी से हटने का फैसला लिया : फैंटम फिल्म्स की एक पूर्व कर्मचारी विकास बहल पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगने के बाद फिल्मकार अनुराग कश्यप ने बुधवार को कहा कि उन्होंने मुंबई एकेडमी ऑफ मूविंग इमेज (मामी) के बोर्ड के सदस्य पद से हटने का फैसला किया है। इस बीच, यौन उत्पीड़न के आरोपों से घिरे फिल्मकार विकास बहल ने फैंटम फिल्म्स के अपने पूर्व साथियों अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवाने को कानूनी नोटिस भेजा है और उन पर उन्हें बदनाम करने का आरोप लगाया है।
वृंदा करात की टिप्पणी चर्चा में : मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की वरिष्ठ नेता वृंदा करात ने बुधवार को कहा कि यह बेहद शर्मनाक है कि देश के ज्यादातर संस्थानों में कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के साथ निपटने वाले कानून लागू नहीं किए गए। देश में जोर पकड़ रहे ‘मी टू’ अभियान के बीच करात ने यह टिप्पणी की है। यौन दुर्व्यवहार के तहत आने वाली विस्तृत श्रेणियों में अपने साथ घटी घटनाओं को कई महिलाएं सोशल मीडिया पर साझा कर रही हैं।

तनुश्री ने पुलिस में दर्ज करवाया बयान : गौरतलब है कि हाल ही में अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा 2008 में एक फिल्म के सेट पर अभिनेता नाना पाटेकर द्वारा बदसलूकी का आरोप लगाया जाने के बाद भारत में ‘मी टू’ अभियान ने जोर पकड़ लिया है। मामले के संबंध में तनुश्री ने बुधवार को ओशिवारा पुलिस के समक्ष अपना बयान भी दर्ज कराया।

विज्ञापन

और भी पढ़ें :