सितंबर में जीएसटी संग्रह बढ़ा, 94 हजार 442 करोड़ रुपए तक पहुंचा

Last Updated: सोमवार, 1 अक्टूबर 2018 (17:09 IST)
नई दिल्ली। वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) संग्रह इस वर्ष सितंबर में बढ़कर 94 हजार करोड़ रुपए के पार 94,442 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।

अगस्त में 2.61 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई थी और यह घटकर 93,960 करोड़ रुपए रह गया था। द्वारा सोमवार को यहां जारी आंकड़ों के अनुसार अगस्त में जुलाई की तुलना में 2,523 करोड़ रुपए कम रहा था लेकिन सितंबर में यह फिर से बढ़कर 94,442 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इस साल जुलाई में जीएसटी से 96,483 करोड़ रुपए और जून में 95,610 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ था।
मंत्रालय ने कहा है कि संभवत: जुलाई में कुछ वस्तुओं पर करों की दरें घटाने के कारण ग्राहकों ने खरीद टाल दी होगी जिसकी वजह से अगस्त में कर संग्रह कम रहा था। करों की दरों में कमी की घोषणा 21 जुलाई को की गई थी जबकि इसके लिए अधिसूचना 27 जुलाई को जारी की गई थी। इस दौरान ग्राहक कर कम होने का इंतजार करते रहे होंगे लेकिन सितंबर में यह फिर से बढ़कर 94 हजार करोड़ रुपए के पार पहुंच गया।

सितंबर में केंद्रीय जीएसटी का संग्रह 15,318 करोड़ रुपए, राज्य जीएसटी का 21,061 करोड़ रुपए, आईजीएसटी का 50,070 करोड़ रुपए और उपकर का 7,993 करोड़ रुपए रहा। आईजीएसटी में आयात पर प्राप्त 25,308 करोड़ रुपए और उपकर में आयात पर प्राप्त 769 करोड़ रुपए का शुल्क भी शामिल है।
अगस्त महीने के लिए 30 सितंबर तक 67 लाख जीएसटीआर 3बी फॉर्म भरे गए। सरकार ने बताया कि विवादित कर मामलों में समझौते के तहत अगस्त में केंद्रीय जीएसटी के तहत 30,574 करोड़ रुपए और राज्य जीएसटी के तहत 35,015 करोड़ रुपए प्राप्त हुए। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :