भारत में इसलिए जब्त नहीं हो सकीं दाऊद की संपत्तियां...

मुंबई| Last Updated: गुरुवार, 14 सितम्बर 2017 (09:02 IST)
मुंबई। वैसे तो भगोड़े गैंगस्टर को वैश्विक आतंकवादी करार दिया गया है लेकिन अधिकारियों को शहर में उसकी संपत्ति कब्जे में लेने में कानूनी अड़चनें आड़े आ रही हैं।
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, 'प्रशासन द्वारा संगठित तरीके से इब्राहिम की संपत्ति कब्जा में लेने का प्रस्ताव है। लेकिन कुछ कानूनी अड़चनें हैं।'

दाऊद की कुछ संपत्तियों, जहां से उसने संगठित अपराध शुरू किया था, कानूनी विवादों में फंसी है। कुछ अन्य संपत्तियां प्रशासन द्वारा नीलाम की गई हैं।

अधिकारी ने बताया कि जिन संपत्तियों की नीलामी हुई है, उनके सिलसिले में निविदाकर्ता धन की कमी की वजह से रकम भुगतान नहीं कर पाए हैं। यह टिप्पणी इस हफ्ते ब्रिटिश प्रशासन द्वारा ब्रिटेन में दाऊद की संपत्ति जब्त कर लेने की खबरों के बीच आई है।
भारतीय अधिकारी इस संबंध में ब्रिटिश समकक्ष के साथ बातचीत में लगे हैं। उसने 2015 में एक डोजियर भेजा था जिसमें दाऊद की मकान, फ्लैट और होटल जैसी दर्जन से अधिक संपत्तियां हैं।

भारत सरकार का रुख रहा है कि 1993 के मुंबई बम धमाकों का मुख्य आरोपी 61 वर्षीय अंडरवर्ल्ड डॉन पाकिस्तान में है और पाकिस्तान उसे यहां कानून का सामना करने के लिए वापस लाने में अड़चनें खड़ी कर रहा है। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :