चीनी कंपनियों की पसंदीदा जगह दिल्ली, जानिए क्यों...

पुनः संशोधित मंगलवार, 8 मई 2018 (08:10 IST)
मुंबई। चीन की कंपनियों के लिए कार्यालय खोलने को दिल्ली-एनसीआर वैश्विक स्तर पर सबसे है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 2015 से 2017 के दौरान चीन की कंपनियों ने दिल्ली में 5,16,667 वर्गफुट जगह पट्टे पर ली।

तीय शहर मुंबई है। 2015-17 के दौरान चीनी कंपनियों ने मुंबई में अपने कार्यालयों के लिए 85,537 वर्गफुट जगह पट्टे पर ली। जेएलएल इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और कंट्री प्रमुख रमेश नायर ने कहा, चीन की कंपनियां एशियाई बाजारों में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रही हैं और उन्होंने भारत सहित सभी प्रमुख बाजारों में अपने कार्यालय स्थापित किए हैं। हालांकि भारत में पट्टे पर जगह लेने के मामले में अमेरिका और यूरोपीय संघ की कंपनियां आगे हैं, चीनी कंपनियां भी यहां तेजी से अपना आधार मजबूत कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि भारत जैसा विविधता वाला बाजार वैश्विक कंपनियों को न केवल विशिष्टता केंद्र उपलब्ध कराता है, बल्कि उनके उत्पादों को उपभोक्ता भी उपलब्ध कराता है। नायर के मुताबिक, हाल के समय में चीन की कई कंपनियों मसलन वीवो, ओप्पो, अलीबाबा, जेडटीई, हुवावेइ तथा शियोमी ने अपनी उपस्थिति का विस्तार किया है। चीन की कंपनियों के लिए दिल्ली एनसीआर के बाद मैड्रिड दूसरा पसंदीदा स्थान है। उसके बाद बैंकॉक, म्यूनिख और क्वालालम्‍पुर का नंबर आता है। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :