बाल साहित्य : मैं और प्रभु

प्रभु! मैं हूं दर्शनाभिलाषी आपका, मैंने ईश्वर से यह विनय किया। चाहता हूं मैं मार्गदर्शन आपका, तब प्रभु ने यह उत्तर दिया।

Widgets Magazine

अलग दुनिया बनाओ...

बच्चों, सांता चाहते है कि आप उनको उपहार में अच्छी पढ़ाई-लिखाई का वादा करें, हर वह नेक काम ...

सरदार वल्लभ भाई पटेल : पुण्य तिथि विशेष

सरदार वल्लभ भाई पटेल का नाम किसी से छुपा हुआ नहीं है, भारतीय राजनैतिक गलियारों में हर एक ...

बाल साहित्य : मत कर होशियारी

चोरी करना छोड़ दे बबलू मत कर ये होशियारी। बात पता जब चल जाएगी मारेगी महतारी।

मानव अधिकार दिवस

60 साल से ज्यादा समय से हम मानव अधिकार दिवस मना रहे हैं। 10 दिसंबर को हम मानव अधिकार दिवस ...

जानिए सशस्त्र सेना झंडा दिवस का इतिहास

सशस्त्र झंडा दिवस हर साल 7 दिसंबर को पूरे देश में मनाया जाता है। खासतौर से भारत की तीनों ...

गाय पर पढ़ें सरल हिन्दी निबंध

गाय एक बहुउपयोगी पशु है जिसका वैज्ञानिक एवं अध्यात्मिक दृष्टि से बड़ा महत्व है। विज्ञान ...

विज्ञान के चमत्कार पर हिन्दी निबंध

विज्ञान हर नए अनुसंधान के साथ मानव जीवन को अधिक सरल बनाता चला जा रहा है। आज विज्ञान के ...

डॉ. बाबासाहेब आम्बेडकर

भीमराव आम्बेडकर दुनिया के लिए एक अमर ज्योति है, जो अंधकारग्रस्त सामाजिक मानवता के लिए ...

बाल दुनिया : अगर मैं चिड़िया होती

काश! अगर मैं चिड़िया होती, दूर-दूर उड़ जाती। घूम-घाम कर दूर गगन में, अपना मन बहलाती।। ऊपर ...

देशभक्त डॉ. राजेंद्र प्रसाद : पढ़ें प्रेरक

राष्ट्रपति राजेंद्र बाबू अत्यंत सौम्य और गंभीर प्रकृति के व्यक्ति थे। सभी वर्ग और बाद के ...

जानिए मजेदार रोचक तथ्य

दुनिया के मजेदार तथ्य जो आप जानना चाहते हैं। हर क्षेत्र के ये मजेदार तथ्य आपको गुदगुदाने ...

चटपटा चुटकुला : पानी पर मच्छर क्यों बैठते हैं?

टीचर- श्याम, पानी पर मच्छर क्यों बैठते हैं?

चुटकुला : चिड़ियाघर

नीता - गीता, कल मैं चिड़ियाघर देखने गई थी। गीता - कल तो मैं भी वहीं थी।

शिक्षाप्रद कहानी : विकलांग

कक्षा में एक नया प्रवेश हुआ... पूर्णसिंह। उसकी विकृत चाल देखकर बच्चे हंसने लगे। किसी ने ...

झूठ पकड़ने का आसान तरीका

कभी-कभी ऐसे मौके आ जाते हैं कि हम सभी को अपनी रोजमर्रा की लाइफ में थोडे झूठ बोलना पड़ते ...

बाल लेखनी : किसान का बेटा

माना गरीब हूं मैं बेटा किसान का, मैं ही बनूंगा गौरव भारत महान का। मेरे घर नहीं तिजोरी, ...

बाल साहित्य : मैं चलता चला गया

राह की दिक्कतों को सहता चला गया, अपने सभी गम भुलाता चला गया। हरदम प्रभु का नाम ही कहता ...

बाल साहित्य : कचरा फेंको, कचरा घर में

झाड़ू रोज लगाते घर में, साफ-सफाई कराते घर में। किंतु कचरा वहीं इकट्‍ठा, भरकर सब रखवाते घर ...

Widgets Magazine

लाइफ स्‍टाइल

उल्कापिंड ने दिए मंगल पर जलस्रोत के संकेत

नासा और खगोल वैज्ञानिकों के एक अंतरराष्ट्रीय दल को पृथ्वी पर उल्कापिंडों में ऐसे साक्ष्य मिले हैं, ...

बाल साहित्य : मैं और प्रभु

प्रभु! मैं हूं दर्शनाभिलाषी आपका, मैंने ईश्वर से यह विनय किया। चाहता हूं मैं मार्गदर्शन आपका, तब ...

Widgets Magazine

जरुर पढ़ें

मीठे सेब के 10 चमत्कारी गुण

सेबफल को सीधे ही खाया जा सकता है या फ्रूट सलाद का हिस्सा भी बनाया जा सकता है। इसे नियमित तौर पर ...

अगर आपके बाल तैलीय हैं तो इसे जरूर पढ़ें..

अगर आपके बाल साधारण तौर पर घने हैं पर फिर भी चिपके से लगते हैं तो आपके बाल निश्चित तौर पर ऑइली हैं। ...

हिन्दी साहित्य : कैलाश से सत्य तक

आइए मैं ले चलूं, आपको कैलाश से सत्य तक की यात्रा में, सत्यार्थीजी के साथ। सत्य के शोधार्थी हैं आप, ...