लाभदायक 10 चमत्कारिक पौधे, जानिए कौन से..

आयुर्वेद के अलावा भारत की स्थानीय संस्कृति में कई चमत्कारिक पौधों के बारे में पढ़ने और सुनने को मिलता है। एक ऐसी जड़ी है जिसको खाने से जब तक ...

Widgets Magazine

वीर्य को पुष्ट करती है सफेद मूसली

सफेद मूसली सदियों से हमारे देश में बल पुष्टिकारक के तौर पर जानी जाती है। चीनी जड़ी जिंसेंग की तुलना में सफेद मूसली अधिक गुणकारी है। स्थानीय जड़ी ...

गजब का एंटिबायोटिक- लहसुन

हमारे देश में लहसुन रसोई का अनिवार्य हिस्सा रहा है। इसे चटनी से लेकर बघार तक सभी तरह से इस्तेमाल किया जाता है। तामसिक खाद्य पदार्थ होने के ...

सेक्स में अरुचि है, जायफल आजमाएं...

आदिवासियों के अनुसार जायफल का चूर्ण तैयार किया जाए और करीब 2 ग्राम चूर्ण में इतनी ही मात्रा की मिश्री मिलाकर प्रतिदिन सुबह शाम फ़ांकी मार ली जाए ...

पैरों की बिवाइयों का देसी आदिवासी इलाज

पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों में देसी नुस्खे सबसे कारगर माने जाते हैं। अधिकांश नुस्खों में किचन में इस्तेमाल हो रहे मसालों से इलाज की सलाह दी ...

10 आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां : दूर करें हर समस्या

आयुर्वेद में स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों के इलाज मौजूद है। ऐसी चीजें जो हमारे आसपास ही हैं लेकिन हमें उनके बारे में जानकारी नहीं है। प्रस्तुत है ...

मधुमेह के नियंत्रण का देसी नुस्खा

मधुमेह पर नियंत्रण के लिए सदियों से पारंपरिकतौर पर स्थानीय आदिवासी इन नुस्खों का इस्तेमाल कर रहे हैं। चिकित्सा विज्ञान भी इनके असर को स्वीकार कर ...

मिर्गी का चमत्कारी इलाज है डीप ब्रेन स्टमयुलाजेशन

मिर्गी का दौरा मरीज की जिंदगी तबाह कर देता है। मरीज के कारण परिवार को आर्थिक संकट के साथ सामाजिक मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में डीप ...

जोड़ों के दर्द का अचूक इलाज है यह तेल

बाजार में मिल रहे कई दर्दनिवारक तेलों की अपेक्षा आदिवासियों द्वारा सदियों से आजमाए जा रहे इस नुस्खे को भी आजमा कर देखें।

जबर्दस्त वाजीकरण नुस्खा है सहजन के फूल और गाय का ...

ड्रगस्टिक्स, मुनगा या सहजन ऐसी वनस्पति है जो जड़ से लेकर पत्ती और फूल तक इंसान के काम आती है। दक्षिण भारत के प्रायः हर भोजन में ड्रमस्टिक्स की ...

नाक से खून बहने का अचूक इलाज

गर्मियों में अक्सर नकसीर (नाक से रक्त बहने ) की शिकायत होती है। कई लोग घबराकर ऐसे उपाय भी करते हैं जिनसे मरीज को फायदे के स्थान पर नुकसान हो ...

माईग्रेन में राहत दिलाए अरहर और कालीमिर्च

माईग्रेन एक अत्यंत पीड़ा दायक रोग है जिसका माकूल इलाज अब तक नहीं मिल सका है। अरहर और कालीमिर्च के मिश्रण से ऐसा रसायन तैयार होता है जो इस ...

कच्चे आलू का रस वरदान है ऑर्थ्राइटिस के मरीजों के ...

कच्चे आलू के रस में कार्बनिक नमक होता है जो आर्थ्राइटिस के मरीजों के लिए वरदान है।

कमाल देशी नुस्खों का

पाठक अक्सर देसी नुस्खों की मांग करते हैं। परंपरागत देसी नुस्खों में कई जड़ी बूटियाँ ऐसी भी हैं जिन्हें आज बाजार से हासिल करना असंभव सा हो गया ...

जबरदस्त टॉनिक है हल्दी का पानी दिल, यकृत और ...

हल्दी के औषधीय गुणों पर विदेशों में शोध हो रहे हैं। इसमें करक्यूमिन नामक एक रसायन पाया जाता है जो कई बीमारियों में अक्सीर दवा के रूप में काम ...

नपुंसकता दूर भगाए रोज इलायची खाएं...

भारतीय भोजन शैली में मसालों को चटपटेपन के लिए नहीं बल्कि उनके चिकित्सकीय फायदों के कारण डाला जाता है। कई मसाले ऐसे हैं जिनके फायदे तो हम भूल ...

इंदौर की जड़ी-बूटी विदेशी दवाओं में

औषधीय फसलों के उत्पादन में इंदौर जिले का नाम तेजी से आगे आ रहा है। यहाँ पैदा होने वाली अश्वगंधा, शतावर, कालमेघ और सफेद मूसली विदेशों तक जा रही ...

विलुप्ति की कगार पर जड़ी-बूटियाँ

घरेलू नुस्खों में इस्तेमाल होने वाली जड़ी-बूटियाँ अब बीते दिनों की बात होती जा रही हैं। ये जड़ी-बूटियाँ अब विलुप्त होने की कगार पर है। 'हंसराज', ...

पवाड़ : एक उपयोगी वनस्पति

पवाड़ को पवाँर, जकवड़ आदि नामों से पुकारा जाता है। वर्षा ऋतु की पहली फुहार पड़ते ही इसके पौधे खुद उग आते हैं और गर्मी के दिनों में जो-जो जगह सूखकर ...

Widgets Magazine

लाइफ स्‍टाइल

प्रवासी हिन्दी कविता : मुड़ के पीछे जो देखा...

मुड़ के पीछे जो देखा कि क्या हो गया, कम्बख्त वक्त गुजरता चला ही गया। मुड़ के पीछे जो देखा कि वो दिन ...

भारतीय छात्र को 11 साल की आयु में स्नातक की उपाधि

अमेरिका में एक भारतीय अमेरिकी प्रतिभाशाली छात्र ने महज 11 साल की आयु में गणित, विज्ञान और फॉरेन ...

Widgets Magazine

जरुर पढ़ें

खूबसूरत आंखों के लिए जरूरी है सुरक्षा

यहां दिए जा रहे उपायों से आप आंखों की सुरक्षा कुछ हद तक कर सकते हैं। निरंतर बगैर नागा किए ...

प्रवासी साहित्य : डैफ़ोडिल के फूल...

इंग्लैंड और कुछ अन्य यूरोपीय देशों में डैफ़ोडिल के फूल वसंत के आगमन की सूचना देते हैं। डैफ़ोडिल के ...

यह 4 बुरी आदतें सेहत के लिए खतरनाक हैं....

किसी व्यक्ति में बेड टी यानि सुबह-सुबह बिस्तर पर चाय पीना, जंक फूड का अधिक सेवन, कम पानी पीना, भोजन ...

Widgets Magazine
Widgets Magazine