चमकी किस्मत, मजदूर को मिला लाखों का हीरा...

कीर्ति राजेश चौरसिया| पुनः संशोधित शनिवार, 15 सितम्बर 2018 (20:47 IST)
पन्ना की तमन्ना है कि हीरा मुझे मिल जाए, हीरा की तमन्ना है कि पन्ना मुझे मिल जाए यह गीत पन्ना में उस समय चरितार्थ हो गया जब खेत में छोटी सी खदान लगाकर हीराकुद रहे प्रकाश कुमार शर्मा को 12 दशमलव 58 कैरेट का हीरा छप्पर फाड़ के मिला। जैसे ही हीरा मिला प्रकाश की आंखें चौंधिया गई।
प्रकाश ने दो साथियों के साथ मिलकर यह हीरा खदान सरकहां स्थित कितू रैकवार के खेत में लगाई थी उसे भरोसा ही नहीं था इतना बड़ा हीरा मिलेगा।

पन्ना के कलेक्ट्रेट स्थित हीरा कार्यालय में खड़ा यह मजदूर प्रकाश शर्मा है जो अचानक चर्चा का विषय बन गया। क्योंकि प्रकाश को किस्मत बदल देने वाला एक खूबसूरत हीरा मिला है। 12.58 कैरेट के इस हीरे की कीमत 50 लाख बताई जा रही है प्रकाश अब तक मजदूरी करता रहा है लेकिन जिस तरीके से पन्ना की धरती हीरे उगलती है और रातों-रात मजदूर लखपति बन जाता है वैसा ही प्रकाश के साथ हो गया अब प्रकाश रोजगार धंधा करेगा प्रकाश ने हीरा मिलने की खुशी इस तरीके से व्यक्त की।
हीरा अधिकारी कहते हैं कि इसकी कीमत मिनिमम 25 लाख रुपए है और यह 50 लाख का भी बिक सकता है कहां इस हीरे को सरकारी खजाने में जमा कर लिया गया है अगले माह होने वाले ऑप्शन में नीलाम किया जाएगा।

पन्ना के हीरा अधिकारी संतोष सिंह ने बताया कि कई बेशकीमती हीरे मिले हैं लेकिन इतना बड़ा हीरा 4 साल बाद इस कार्यालय में जमा कराया गया है जिससे कार्यालय के कर्मचारी भी खुश है। ज्ञात हो कि राजस्व और वन भूमि विवाद के कारण पन्ना की अधिकांश हीरा खदानें बंद हो गई हैं इस कारण से हीरा उद्योग चौपट हो गया अब यह जो हीरा मिला है इससे नई उम्मीद जगी है।


और भी पढ़ें :