देवास जिले में 13 वर्षीय किशोरी के साथ गैंग रेप के बाद हत्या

पुनः संशोधित सोमवार, 6 नवंबर 2017 (00:08 IST)
कुंवर राजेन्द्रपालसिंह सेंगर
(बागली)। भोपाल की पीड़िता का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि बागली पुलिस अनुविभाग के कांटाफोड़ थाना क्षेत्र के ग्राम सुंद्रैल में एक 13 वर्षीय किशोरी के बलात्कार और हत्या का मामला रविवार को प्रकाश में आया है।
मृतका दो दिन पूर्व खेत पर सिंचाई कर रहे अपने पिता के लिए चाय बनाने की सामग्री लेकर गई थी लेकिन वह खेत तक पहुंच ही नहीं सकी और गुमशुदा हो गई। मामले को लेकर क्षेत्र में रहवासियों का गुस्सा उबल पड़ा और उन्होंने सड़क भी जाम की गई। बागली पुलिस अनुविभाग के अनुविभागीय अधिकारी पुलिस दिलीप जोशी ने अविलंब आरोपियों की गिरफ्तारी का लिखित आश्वासन दिया।

देर रात तक पुलिस ने कुछ संदिग्धों को राऊंड अप कर पुछताछ आरंभ कर दी थी। प्राप्त जानकारी के अनुसार पीड़िता दो दिन पूर्व अपने घर से पिता को चाय बनाने की सामग्री देने के लिए निकली थी लेकिन वह खेत पर पहुंची ही नहीं। इस बीच जब पिता घर पर पहुंचे तो किशोरी की तलाश आरंभ हुई।
पिता ने मोहल्ले व गांव में तलाशने के बाद समाजजनों को भी इस बारे सूचना दी और वृहद स्तर पर उसकी तलाश आरंभ हुई लेकिन किशोरी का कहीं पता नहीं चला। रविवार को बोंदर निवासी सुंद्रैल के खेत पर हरीओम पिता बोंदर सिंचाई करने के लिए गया था। कार्य के दौरान उसे शौच जाना पड़ा, तब उसने देखा कि लाल तुवर की फसल में बालिका का शव पड़ा है।

बालिका अर्द्घनग्न अवस्था में थी और उसके शरीर पर सलवार नहीं थी। हरीओम ने घटना की जानकारी पुलिस और खेत पड़ौसियों को दी। थाना प्रभारी सीएल कटारे सदल मौके पर पहुंचे। पंचनामे की कार्यवाही की गई।

इस दौरान एसडीओपी दिलीप जोशी भी मौके पर पहुंचे। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए फोरेंसिक टीम को बुलाया गया। साथ ही पुलिस अधीक्षक देवास अंशुमानसिंह, एसडीओपी कन्नौद शेरसिंह भूरिया, टीआई बागली सुजीत तिवारी, टीआई सतवास अमित सोनी भी मौके पर पहुंचे।

आक्रोशित ग्रामिणों ने मुख्य मार्ग पर चक्काजाम कर दिया। साथ ही दोनों ही दलों के जनप्रतिनिधि भी मौके पर पहुंच गए, जिस पर ग्रामिणों की मांगो के मद्देनजर एसडीओपी बागली जोशी ने आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया।

फोरेंसिक टीम की डॉ. श्वेता देश्मुख ने बताया कि घटना लगभग 36 घंटे पूर्व की है। शरीर पर चोट के चिन्ह है और लगता है कि मौत दम घुटने के कारण हुई है। मृतका के शव का पीएम कांटाफोड चिकित्सालय में डॉ राजीव त्रिपाठी और डॉ मेघा पटेल ने किया।

पुलिस ने अज्ञात आरोपी पर हत्या व बलात्कार का मामला दर्ज किया। रात्रि में पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया और पूछताछ आरंभ की।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :