अनिल माधव दवे का निधन, भाजपा नेताओं में शोक की लहर

Last Updated: गुरुवार, 18 मई 2017 (14:55 IST)
भोपाल भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता राष्ट्रवादी विचारक, चिंतक और केंद्रीय वन और पर्यावरण राज्यमंत्री अनिल माधव दवे का गुरुवार को निधन हो गया। दवे के निधन से भाजपा नेताओं में शोक की लहर फैल गई।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकुमारसिंह चौहान और संगठन महामंत्री सुहास भगत सहित सभी भाजपा
कार्यकर्ताओं ने उनके के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

चौहान ने कहा है कि हमने एक कुशल संगठन विचारक और चिंतक खो दिया है। उनका निधन असामायिक है। हमें उम्मीद थी कि लंबे समय तक उनके मार्गदर्शन में पार्टी संगठन अपना काम कर सकेगा।

दवेजी का चिंतन सदैव राष्ट्र के चौमुखी विकास की ओर रहा। वह देश के जाने-माने पर्यावरणविद थे। नर्मदा जी के संरक्षण संवर्धन की दिशा में उन्होंने उल्लेखनीय कार्य किए। जीवन भर वह नर्मदा के अविरल प्रवाह के लिए कार्य करते रहे।
उन्होंने नर्मदाजी की परिक्रमा की। पर्यावरण के क्षेत्र में उनकी लगन और ज्ञान को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी ने उन्हें पर्यावरण मंत्रालय जैसा महत्वपूर्ण दायित्व सौंपा। जिसे उन्होंने राष्ट्रीय ही नहीं अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर भी बखूबी निभाया।

चौहान ने बताया कि दवेजी के निधन से न सिर्फ मध्यप्रदेश में भाजपा को गहरा धक्का लगा है, बल्कि समूचे देश में शुचिता की राजनीति करने वालों को गहरा आघात पहुंचा है। दवेजी के निधन से जो स्थान रिक्त हुआ है उसकी भरपाई करना शायद कभी संभव नहीं होगा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे और हम सभी भाजपा जनों को उनके बताए मार्ग पर चलने की प्रेरणा देता रहे।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :