0

बुरा न मानो, होली है...!

गुरुवार,मार्च 1, 2018
0
1
होली भारत का प्रमुख त्योहार है, क्योंकि इस दिन पूरे भारत में 'बैंक होली-डे' रहता है अर्थात अवकाश रहता है जिसकी वजह से ...
1
2
बही-खातों में जब छोटे-छोटे घपले टाले जाते हैं, तो वो घोटाले बन जाते हैं। आशावादी भारतीय लोकतंत्र में घोटाला होना एक शुभ ...
2
3
जो सज्जन इसे पढ़ सकते हैं, बहुत संभव है वो इसे समझ नहीं सकेंगे। यद्यपि पढ़ना शिक्षित होना दर्शाता है वरन, समझना समझदारी। ...
3
4
हर कार्यालय की लय, वहां कार्य से फर्जी एनकाउंटर करने वाले कर्मचारियों की कुशलता में लीन रहकर अंततोगत्वा अपने प्रारब्ध ...
4
4
5
सुबह-सुबह चाय की चुस्की के साथ अखबार पर नजर दौड़ा रहा था कि अचानक नजर ठिठककर ठहर गई। नजर के घोड़ों का दम फूल चुका था और ...
5
6
भाइयों-बहनों, किसी के माथे पर लिखा नहीं होता कि वह बेवकूफ है। मतलब साफ है कि लोग बेवकूफ होते नहीं, उन्हें बेवकूफ बना ...
6
7

व्यंग्य : नेता और अभिनेता

शनिवार,फ़रवरी 10, 2018
रविवार को मैं देर से उठता हूं। उस दिन मॉर्निंग वॉक पर भी नहीं जाता। मेरा हिसाब बहुत ही सीधा है- सप्ताह में 6 दिन वॉक, ...
7
8
उद्‍घाटन कार्यक्रम के पश्चात मंत्रीजी ने टीवी कैमरे की ओर जिस धृष्टता से देखा तभी लग गया था कि फीता तो कट गया अब नाक ...
8
8
9
जब माताश्री के नारे ‘गरीबी हटाओ’ से गरीबी हट गई तब सुपुत्रश्री ने राजनीति में आते ही घोषणा कर दी - ‘मेरा भारत महान'। ...
9
10
दिवाली पर प्रदूषण के निरंतर बढ़ते स्तर का स्वयं संज्ञान लेते हुए सर्वोच्च माननीय ने पटाखों पर निषेधाज्ञा लागू कर दिवाली ...
10
11
मोटापा ऊपरवाले की देन है जिसे वो आलस और पेटूपन जैसे अपने अंडरकवर एजेंट्स की सहायता से धरती पर रवाना करता है। मोटापा भले ...
11
12

अगला चुनाव कब है?

गुरुवार,जनवरी 11, 2018
जब से गुजरात व एक अन्य किसी प्रदेश के चुनावों के अपेक्षित परिणाम, अनपेक्षित रूप से घोषित हुए हैं, तब से जीवन सूना-सूना ...
12
13
बधाइयों और शुभकामनाओं का जब ‘व्हाट्स एप’ पर यकायक तांता लग जाए और मोबाइल की घंटी अनवरत घनघनाने लगे तो नया साल आ ही गया ...
13
14
चौराहे जाम, मुख्य मार्ग जाम, देखते ही देखते जाम छलक गया गलियों में। पुलिसकर्मी नदारद, लाल बत्तियाँ गुल, व्यवस्था ...
14
15
पृथ्वी बिना किसी बुलावे या भुलावे के निरंतर सूर्य के चक्कर लगाती है। हालांकि अभी तक यह सिद्ध नहीं हो पाया है कि निरंतर ...
15
16

तोल, मोल के बोल

गुरुवार,दिसंबर 21, 2017
प्रत्येक बोले जाने वाले बोल का मोल होता है अत: उसका व्यय तोल-तोलकर ही करना उचित है। बोल सस्ते भी होते हैं और महंगे भी। ...
16
17
कुछ दिनों पूर्व एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई जिसमें 22 सप्ताह के 2 अपरिपक्व भ्रूणों को जन्म के पश्चात असंवेदनशीलता से ...
17
18
आगामी सप्ताहांत गुजरात में समुद्र एवं पृथ्वी की विपरीत दिशाओं से दो दो तूफान आने वाले हैं। देखना होगा की कौन अधिक तबाही ...
18
19
मिश्राजी साहित्य के प्रधान सेवक हैं। साहित्य सेवा का यह बीड़ा उन्होंने 55 किलोग्राम श्रेणी में ही उठा लिया था, जब वे ...
19