हार्दिक जुझारू, लेकिन कपिल से तुलना ठीक नहीं : गांगुली

पुनः संशोधित बुधवार, 4 अक्टूबर 2017 (18:44 IST)
नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान सौरभ गांगुली का मानना है कि टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या एक जुझारू खिलाड़ी हैं, लेकिन पूर्व ऑलराउंडर से उनकी तुलना करना ठीक नहीं है।





ऑलराउंडर हार्दिक इस समय शानदार फार्म में चल रहे हैं और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई वनडे सीरीज में वे 'मैन ऑफ द सीरीज' रहे थे। कप्तान विराट कोहली ने उनकी तारीफ करते हुए उन्हें सीरीज की खोज बताया था। विराट के बाद अब क्रिकेट के दिग्गज भी हार्दिक की तारीफ कर रहे हैं।





गांगुली ने कहा, हार्दिक के अंदर काफी क्षमता है, जो भारतीय टीम की मदद करती है, लेकिन इस समय कपिल देव से उनकी तुलना करना ठीक नहीं है। कपिल देव सच में एक चैंपियन थे। हम 10-15 साल बाद इस पर चर्चा कर सकते हैं, लेकिन तब तक उन्हें काफी लंबा रास्ता तय करना है।





पूर्व कप्तान ने कहा, वे (हार्दिक) एक अच्छे क्रिकेटर हैं और अभी उन्हें अपने खेल का आनंद लेने दीजिए। वे एक सकारात्मक क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ी हैं। वे एक जुझारू क्रिकेटर हैं। मैं उन्हें अपनी शुभकामनाएं देता हूं। मुझे उम्मीद है कि वे विराट कोहली के लिए काम आसान करना जारी रखेंगे।

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पांच मैचों की वनडे सीरीज में 4-1 से धोया है और अब वे सात अक्टूबर से कंगारूओं से तीन मैचों की ट्वंटी-20 सीरीज खेलेगा। इस सीरीज के लिए 38 साल के अनुभवी तेज गेंदबाज आशीष नेहरा की टीम में वापसी हुई है।





गांगुली ने एक चैनल से बातचीत में कहा, भारतीय क्रिकेट के लिए यह अच्छी खबर है कि वे उम्र पर नहीं योग्यता पर ध्यान दे रहे हैं। वे (नेहरा) टी-20 के विशेष गेंदबाज हैं। हमने उन्हें गत टी-20 विश्वकप में भी देखा हैं। बाएं हाथ के गेंदबाज होने के कारण वे एक अलग ही एंगल निकालते हैं। मुझे लगता है कि वे इस सीरीज में एक अलग ही छाप छोड़ेंगे।



पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा, भारत ने हाल में श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया को पूरी तरह धोकर रख दिया है। टीम इस समय बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों विभाग में शानदार प्रदर्शन कर रही है। यह सब कुछ पिछले एक से डेढ़ साल में हुआ है।

उन्‍होंने कहा, चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल को छोड़ दें तो टीम असाधारण प्रदर्शन कर रही है। अब हमें न्यूजीलैंड और श्रीलंका के खिलाफ खेलना है और मुझे लगता है कि टीम फिर से अपने उसी प्रदर्शन को दोहराएगी। भारतीय कप्तान विराट कोहली की अगुवाई में टीम हर विभाग में शानदार प्रदर्शन कर रही है, लेकिन गांगुली विराट की कप्तानी को अलग ही नजरिए से देख रहे हैं।











भारत के लिए 113 टेस्ट और 311 वनडे खेल चुके गांगुली ने कहा, विराट में भारत का महान कप्तान बनने की सभी काबिलियत है और मुझे इसमें कोई संदेह नहीं लगता, लेकिन मेरा मानना है कि आने वाले 15 महीने विराट के लिए बेहद चुनौतीपूर्ण रहेंगे, क्योंकि भारत को दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है और फिर उसके बाद हमें विश्वकप भी खेलना है।

पूर्व कप्तान ने कहा, मुझे लगता है वह सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। वे अपनी एक टीम तैयार कर रहे हैं। खिलाड़ियों का चयन और उनको मौका दे रहे हैं। ये सब हमें विराट की कप्तानी में दिखने को मिल रहा है। आगामी न्यूजीलैंड और श्रीलंका सीरीज भी वे जीत जाएंगे, लेकिन उनकी कप्तानी की असली परीक्षा दक्षिण अफ्रीका दौरे से शुरू होगी और मुझे उम्मीद है कि वे वहां भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :