रणजी ट्रॉफी फाइनल : ध्रुव के नाबाद शतक से दिल्ली संभला

Last Updated: शुक्रवार, 29 दिसंबर 2017 (21:17 IST)
इंदौर। 22 दिसम्बर को भारत श्रीलंका टी20 मैच के बाद एक बार फिर क्रिकेटप्रेमियों से आबाद हो गया। करीब 2000 हजार दर्शकों के बीच शुक्रवार को ध्रुव शौरी (नाबाद 123) और (66) की बेशकीमती पारियों ने दिल्ली को शुरुआती झटकों से उबारते हुए पहली बार खेल रही के खिलाफ मैच के पहले दिन संभाल लिया। दिन के खेल की समाप्ति तक दिल्ली ने 88 ओवर में 6 विकेट पर 271 रन बना लिए थे।

रणजी ट्रॉफी के खिताबी मुकाबले में पहली बार पहुंच इतिहास रचने वाली विदर्भ ने टॉस जीतकर दिल्ली को पहले बल्लेबाजी का मौका दिया और अपने गेंदबाजों
के हमले से अपने इस फैसले को सही भी साबित कर दिया। हालांकि फिर शौरी और हिम्मत ने हिम्मत दिखाते हुए दिन की समाप्ति तक 88 ओवर में दिल्ली को छह विकेट पर 271 रन तक पहुंचाया।

दिन की समाप्ति से ठीक पहले सेमीफाइनल में विदर्भ के हीरो रहे रजनीश गुरबानी ने हिम्मत का अहम विकेट निकाल उनकी और शौरी की 105 रन की शतकीय साझेदारी पर ब्रेक लगा दिया। वहीं सिद्धेश नेराल ने मनन शर्मा को दिन के आखिरी और दिल्ली के छठे बल्लेबाज के रूप में आउट किया। फिलहाल ध्रुव (123) और विकास मिश्रा (5) क्रीज पर हैं और दिल्ली के चार विकेट शेष हैं।

सात बार की चैंपियन और 15वीं बार फाइनल में खेलने उतरी अनुभवी दिल्ली की शुरूआत काफी खराब रही और उसने एक रन पर ओपनर क्रुणाल चंदीला(शून्य) का विकेट गंवा दिया तथा केवल 99 रन तक अपने चार विकेट खोकर पूरी तरह दबाव में आ गई।

पूर्व कप्तान और अनुभवी बल्लेबाज़ गौतम गंभीर भी खिताबी मुकाबले में फ्लाप रहे और 38 गेंदों में तीन चौके लगाकर वह केवल 15 रन ही जोड़ पाए। चंदीला को पदार्पण कर रहे 19 साल के आदित्य ठाकरे ने कप्तान फैज फैजल के हाथों कैच कराकर अपना पहला प्रथम श्रेणी विकेट निकाला। गंभीर को अक्षय वखारे ने बोल्ड किया और दोनों ओपनर 30 रन पर पैवेलियन लौट गए।

तीसरे नंबर पर उतरे ध्रुव ने फिर एक छोर संभालते हुए अपना शतक पूरा किया और नाबाद क्रीज से लौटे। उन्होंने 256 गेंदों में 17 चौके लगाकर नाबाद 123 रन बनाए, जो उनका प्रथम श्रेणी में तीसरा शतक है तथा यह उनका करियर में सर्वाधिक स्कोर भी है। इससे पहले उनका प्रथम श्रेणी में सर्वाधिक स्कोर नाबाद 107 रन था।

नीतीश राणा ने 44 गेंदों की पारी में दो चौके और एक छक्का लगाकर 21 रन बनाए और ठाकरे ने उन्हें पगबाधा कर मैच में अपना दूसरा विकेट हासिल किया। दूसरे छोर पर विकेट गिरने का सिलसिला चलता रहा और दिल्ली ने कप्तान रिषभ पंत के रूप में 99 के स्कोर पर अपना चौथा विकेट भी जल्द गंवा दिया।

पंत 21 रन बनाकर गुरबानी का शिकार बने। पंत ने 36 गेंदों की पारी में तीन चौके लगाए और गुरबानी ने उन्हें विकेटकीपर अक्षय वादकर के हाथों विकेट के पीछे कैच करा दिया। लेकिन फिर छठे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए हिम्मत ने शौरी का बखूबी साथ देते हुए बनाया और 99 रन पर चार विकेट से निकालकर दिल्ली को 204 के स्कोर तक ले गए।

हिम्मत ने 72 गेंदों की पारी में आठ चौके और दो छक्के लगाकर 66 रन बनाए और पांचवें विकेट के लिए 105 रन की शतकीय साझेदारी से दिल्ली को संभाला। दिन के खेल की समाप्ति से कुछ देर पहले फिर गुरबानी ने इस साझेदारी को तोड़ते हुए हिम्मत को विकेट के पीछे वादकर के हाथों कैच कराकर दिल्ली का पांचवां विकेट निकाल लिया। वहीं नेराल ने विदर्भ के कप्तान फैज फैजल के हाथों मनन को कैच कराकर छठा विकेट भी निकाल लिया।

मनन ने 42 गेंदों की पारी में तीन चौके लगाकर 13 रन बनाए। विदर्भ की तरफ से आदित्य ठाकरे ने अपने पदार्पण मैच में प्रभावित किया और 65 रन पर दो विकेट तथा गुरबानी ने 44 रन पर दो विकेट निकाले। नेराल ने 57 रन और वखारे ने 34 रन देकर दिल्ली का एक-एक विकेट हासिल किया।

क्रिकेटरों के परिवार भी होलकर स्टेडियम में : इस मैच को देखने के लिए इंटरनेशनल क्रिकेटर करण शर्मा के माता-पिता और बेटी भी दर्शकों में मौजूद थे। यही नहीं विदर्भ टीम के कप्तान फैज फजल की पत्नी और उनके माता-पिता भी आए हुए हैं।

पहले दिन (123) लगाने वाले ध्रुव शौरी के परिवार ने भी मैच देखा। इस मैच के लिए विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष जायसवाल, और क्रिकेट डेवलपमेंट कमेटी के चेयरमैन प्रशांत वैद्य को भी पैवेलियन की पहली मंजिल से मैच के नजारे देखते हुए देखा गया।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

Cricket Update

 

पिता थे चपरासी, बेटा बना भारतीय फुटबॉल टीम का मेसी

पिता थे चपरासी, बेटा बना भारतीय फुटबॉल टीम का मेसी
यूपी के मुजफ्फरनगर जिले के एक फुटबॉल खिलाड़ी नीशू कुमार को भारतीय नेशनल टीम में शामिल ...

KL RAHUL यानी 'कमाल लाजवाब राहुल' ने अंग्रेज गोलदांजों के ...

KL RAHUL यानी 'कमाल लाजवाब राहुल' ने अंग्रेज गोलदांजों के छक्के छुड़ाए
इंग्लैंड की धरती पर कदम रखते ही केएल राहुल ने मंगलवार को पहले टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में ...

छोटे से गांव से निकला टीम इंडिया का चाइनमैन, अंग्रेजों की ...

छोटे से गांव से निकला टीम इंडिया का चाइनमैन, अंग्रेजों की धरती पर बनाया रिकॉर्ड
तीन टी-20 मैचों की सीरीज के पहले मैच में बुधवार को भारत ने यदि इंग्लैंड को उसी के घर में ...

विंबलडन में छाया फीफा विश्व कप का खुमार

विंबलडन में छाया फीफा विश्व कप का खुमार
इंग्लैंड में चल रहे विंबलडन में मंगलवार को एक कोने का माहौल किसी फुटबॉल स्टेडियम से कम ...

नेमार : झोपड़पट्‍टी से निकलकर आलीशान बंगले तक

नेमार : झोपड़पट्‍टी से निकलकर आलीशान बंगले तक
फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण में फुटबॉल बिरादरी की जुबां पर क्रिस्टियानो रोनाल्डो, ...

FIFA WC 2018 : इंग्लैंड के हैरी केन को मिला 'गोल्डन बूट'

FIFA WC 2018 : इंग्लैंड के हैरी केन को मिला 'गोल्डन बूट'
मास्को। इंग्लैंड की टीम भले ही फीफा विश्व कप में चौथे स्थान पर रही पर कप्तान हैरी केन ने ...

20 साल बाद फ्रांस बना विश्व कप चैम्पियन, क्रोएशिया को 4-2 ...

20 साल बाद फ्रांस बना विश्व कप चैम्पियन, क्रोएशिया को 4-2 से हराया
मॉस्को। फ्रांस ने उम्मीदों के अनुरूप प्रदर्शन करते हुए पहली बार फाइनल खेल रहे क्रोएशिया ...

दूसरी बार विश्व कप चैम्पियन बनते ही जश्न में डूबा फ्रांस

दूसरी बार विश्व कप चैम्पियन बनते ही जश्न में डूबा फ्रांस
पेरिस। रूस में फीफा विश्व कप 2018 में दूसरी बार विश्व विजेता बनते ही पूरे फ्रांस में जश्न ...

फ्रांस-क्रोएशिया विश्वकप फाइनल मैच के हाईलाइट्‍स

फ्रांस-क्रोएशिया विश्वकप फाइनल मैच के हाईलाइट्‍स
मॉस्को (रूस)। फ्रांस की टीम क्रोएशिया को 4-2 से हराकर 20 सालों के बाद दूसरी बार फीफा ...

सर्बिया के नोवाक जोकोविच चौथी बार बने विम्बलडन चैंपियन

सर्बिया के नोवाक जोकोविच चौथी बार बने विम्बलडन चैंपियन
लंदन। पूर्व नंबर एक सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने दक्षिण अफ्रीका के मैराथन मैन केविन एंडरसन ...