भारत और विंडीज के बीच मुंबई वनडे मैच पर संकट के बादल

Last Updated: बुधवार, 10 अक्टूबर 2018 (10:18 IST)
मुंबई। को उम्मीद है कि क्रिकेट संघ भारत और विंडीज के बीच को एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच की मेजबानी करेगा हालांकि राज्य इकाई ने इसके आयोजन में कुछ समस्याओं का हवाला दिया है।

एमसीए अधिकारियों ने मंगलवार को बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की और उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत कराया। इनमें एमसीए का बैंक खाता संचालित नहीं कर पाने और स्टेडियम में विज्ञापन अधिकारों के लिए निविदा सूचना जारी नहीं करना शामिल है।

एमसीए के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी के आग्रह पर एमसीए के वरिष्ठ अधिकारियों और प्रबंधन समिति के कुछ सदस्यों ने उनसे मुलाकात की और उन्हें बैंक खाता संचालित नहीं कर पाने और मैच के लिए निविदा जारी नहीं करने की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया।
उन्होंने कहा कि हमने 29 अक्टूबर को होने वाले मैच के लिए अभी तक स्टेडियम के अंदर विज्ञापन, खान-पान, साफ-सफाई, निजी सुरक्षा आदि के लिए निविदा नहीं दी है। सीओए के प्रमुख विनोद राय ने हालांकि कहा कि जल्द ही उपयुक्त समाधान निकल आएगा।

राय ने कहा कि मैं यह नहीं कह रहा हूं कि मुंबई का वनडे स्थानांतरित किया जाएगा। हां, उन्होंने कुछ मसले उठाए हैं और मुझे विश्वास है कि हम कुछ उपयुक्त समाधान निकाल लेंगे। एक अन्य अधिकारी ने कहा कि एमसीए सचिव उन्मेष खानविलकर और एक अन्य सदस्य ने भारत-विंडीज मैच के लिए तदर्थ समिति गठित करने के लिए मुंबई उच्च न्यायालय की शरण ली लेकिन उच्च न्यायालय ने उसने उच्चतम न्यायालय के पास जाने के लिए कहा।
याचिकाकर्ता उन्मेष खानविलकर और गणेश अय्यर ने अभी तक फैसला नहीं किया है कि वे उच्चतम न्यायालय जाएंगे या नहीं? अधिकारी ने कहा कि एकदिवसीय मैच के आयोजन के लिए उच्चतम न्यायालय के पास जाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।


और भी पढ़ें :