यूपीएससी परीक्षा उत्तीर्ण करने का फॉर्मूला

पुनः संशोधित सोमवार, 26 फ़रवरी 2018 (10:36 IST)
नई दिल्ली। में सचिव डॉ. अरुणा शर्मा ने कहा है अगर आपने सिविल सेवा के लिए मन बना लिया है तो तब तक किसी की बात मत सुनिये जब तक आप सिविल सेवा परीक्षा पास नहीं कर लेते। डॉ. शर्मा कल राजधानी नयी दिल्ली के राष्ट्रीय प्राणी उद्यान में आयोजित यूपीएसी कान्क्लेव-2018 में आईएएस अभ्यार्थियों को संबोधित कर रही थी।
यूपीएसी कान्क्लेव का विषय 'कैसे करें सिविल सेवा परीक्षा पास' था। सिविल सेवा परीक्षा के अभ्यार्थियों को संबोधित करते हुए डॉ. शर्मा ने कहा कि कड़ा परिश्रम ही इस परीक्षा को पास करने की एकमात्र कूंजी है। उन्होंने कहा कि इसमें आपकी मेहनत का योगदान 99 फीसदी और भाग्य का योगदान महज एक फीसदी होता है। उत्तरप्रदेश विशेष कार्य बल के महानिरीक्षक अमिताभ यश, वन्य उद्यान की निदेशक रेणु सिंह, वित्त मंत्रालय की अवर सचिव मयूषा गोयल, मुजफ्फरनगर के मुख्य विकास अधिकारी अंकित अग्रवाल और मनोज टिबरेवाल आकाश ने भी सिविल सेवा परीक्षा के अभ्यार्थियों को संबोधित किया।
भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी अधिकारी अमिताभ यश ने अभ्यार्थियों को प्रत्येक ‌विषय के नोट्स बनाने की सलाह दी। उन्होंने कहा आपको सरकार की नीतियों की गहरी जानकारी होनी चाहिए। आपको तय शब्द सीमा के भीतर सवालों के जबाव देने चाहिए। भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी अंकित अग्रवाल ने कहा आपको प्रत्येक विषय को एक निश्चित समय देना चाहिए और ईमानदारी के साथ इसका अनुसरण करना चाहिए। रोजाना कम से कम दो समाचार पत्र आवश्य पढ़ने चाहिए।

साक्षात्कार के समय आपको असहज सवालों पर घबराना नहीं चाहिए बल्कि धैर्य और शांति बनाये रखने की सबसे ज्यादा आवश्यकता होती है। भारतीय राजस्व सेवा अधिकारी मयूषा गोयल ने कहा कि आपको सिविल सेवा के पहले प्रयास को अंतिम प्रयास के तौर पर लेना चाहिए और इसके प्रति शत-प्रतिशत समर्पित होना चाहिए। यूपीएसी कान्क्लेव में सिविल सेवा के युवा अभ्यार्थियों के साथ अपने विचारों और अनुभव को साझा करने के लिए विभिन्न सिविल सेवाओं के अधिकारी एक मंच पर उपस्थित थे। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :