रिटर्न भर रहे हैं तो रखें इन बातों का ध्यान

पुनः संशोधित सोमवार, 17 जुलाई 2017 (20:32 IST)
वित्त वर्ष 2017-18 (असेसमेंट ईयर 2016-19) के लिए भरने की अंतिम तारीख यानी 31 जुलाई बेहद करीब आ चुकी है। इस बार ने कुछ बदलाव किए हैं। अगर आप भी रिटर्न भरने जा रहे हैं तो इन बातों का रखें ध्यान।
- 31 जुलाई 2017 से पहले 5 लाख से अधिक आय वाले लोगों को आईटीआर की ई-फाइलिंग करनी होगी। जिन लोगों ने रिफंड क्लेम किया है, उन्हें तय तारीख तक आईटीआर की ई-फाइलिंग करनी होगी।

- अब 80 साल या उससे अधिक उम्र वाले लोगों को आईटीआर फॉर्म—1 और आईटीआर—2 के जरिए रिटर्न फाइल कर सकते हैं।

- 500 और 1000 के पुराने नोट बंद करने के फैसले के बाद 11 नवंबर 2016 से लेकर 30 दिसंबर 2016 तक यदि आपने अपने बैंक खाते में 2 लाख या उससे ज्यादा की रकम जमा कराई है तो इसकी सूचना इनकम टैक्स विभाग को देनी होगी।
- इतना ही नहीं अगर आपके एक से ज्यादा खाते हैं और आपने सभी खातों में मिलाकर 2 लाख या उससे अधिक की राशि जमा कराई है तो भी आपको इसकी जानकारी आयकर विभाग को देनी होगी।

- आपकी वार्षिक आय ढाई लाख से कम है तो आप टैक्स के दायरे में नहीं आएंगे, लेकिन ढाई से पांच लाख की आय वालों को 5 फीसदी टैक्स देना होगा, वहीं 5 से 10 लाख तक आय वालों को 20 प्रतिशत और 10 लाख से ज्यादा आय वालों को 30 फीसदी तक का टैक्स देना होगा।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :