Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine

चांदी में गिरावट, सोना भी लुढ़का

पुनः संशोधित बुधवार, 15 मार्च 2017 (17:44 IST)
नई दिल्ली। वैश्विक स्तर पर रही तेजी के बावजूद स्थानीय बाजार में देश की आर्थिक नीति को लेकर मजबूत हुई कारोबारी धारणा तथा मांग की भारी कमी से सोने तथा चांदी कीमतों में बुधवार को लगातार दूसरे दिन गिरावट दर्ज की गई। कारोबार की सुस्ती से दिल्ली सर्राफा बाजार में आज सोना 250 रुपए गिरकर 28,650 रुपए प्रति दस ग्राम और चांदी 500 रुपए फिसलकर 40000 के आंकड़े के नीचे 39970 रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गई। 
        
कारोबारियों का कहना है कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की बढ़त को देखकर निवेशकों का भरोसा बाजार पर बढ़ गया है, जिससे पीली धातु की मांग प्रभावित हुई है। इसके साथ ही वैवाहिक सीजन खत्म भी खत्म हो गया है जिससे जेवराती मांग न के बराबर है।
       
सोने में कल भी 150 रुपए और चांदी में 180 रुपए की गिरावट रही थी। इसके अलावा गत सप्ताह शनिवार को छोड़कर सभी पांच कारोबारी दिवसों में दोनों कीमती धातुओं में गिरावट रही थी। अंतरराष्ट्रीय बाजारों में लंदन में सोना 3.30 डॉलर मजबूत होकर 1,203.20 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। अप्रैल का अमेरिकी सोना वायदा भी 0.3 डॉलर की तेजी के साथ 1202.9 डॉलर प्रति औंस बोला गया।
        
विश्लेषकों का कहना है कि वैश्विक स्तर पर पीली धातु पर दो विभिन्न कारक हावी हैं, जिससे इसकी कीमतों में उठापटक जारी है। नीदरलैंड में आज चुनाव हो रहा है और इसके नतीजे को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है, जिससे सतर्क होकर निवेशक पीली धातु में सुरक्षित निवेश कर रहे हैं। दरअसल, नीदरलैंड के चुनावी परिणाम का फ्रांस के चुनाव पर काफी प्रभाव पड़ेगा और इन दो देशों के चुनावी नतीजे ही यूरोपीय संघ के आगे का रुख तय करेंगे। 
      
दूसरी तरफ निवेशक अमेरिकी फेडरल रिजर्व की आज समाप्त होने वाली दो दिवसीय बैठक के नतीजों की प्रतीक्षा भी कर रहे हैं। इस बात की बहुत संभावना है कि फेडरल रिजर्व ब्याज दर बढ़ाने का फैसला लेगा और इस हालत में सोने के प्रति निवेशकों का रुझान कम हो जाएगा। इस दौरान चांदी 0.02 डॉलर उछलकर 16.92 डॉलर प्रति औंस बोली गई। (वार्ता)
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine