भारत में मिला सुपरबग, किसी एंटीबायोटिक का असर नहीं

पुनः संशोधित बुधवार, 18 जनवरी 2017 (16:07 IST)
वॉशिंगटन। दुनिया में पहली बार एक ऐसा मिला है जिस पर अभी तक किसी का असर नहीं हुआ है। एक अमेरिकी महिला की सितंबर में इस से मौत हो गई थी। वह 2 साल से भारत में थी। डॉक्टर्स ने बताया कि महिला को अलग-अलग 26 एंटीबायोटिक्स दी गई, लेकिन कोई असर नहीं हुआ।
 
70 साल की यह महिला बीते साल अस्पताल में भर्ती हुई थी, लेकिन सितंबर में इलाज के दौरान मौत हो गई। अमेरिकी डॉक्टर ली चैन का कहना है कि इसमें कोई आशंका नहीं कि महिला को यह इंफेक्शन भारत में ही हुआ है। रिसर्चर्स ने बताया कि महिला को कार्बापेनम-रेजिस्टेंट एंटेरोबैक्टेरिएसए (सीआरई) के कारण इंफेक्शन हुआ था। उन्होंने बताया कि सीआरई अमेरिका में नया नहीं है। नई बात यह है कि यह एंटीबायोटिक का बाधक है। 
 
वैज्ञानिकों का यह भी कहना है कि इस सुपरबग के प्रकोप से देश में हजारों की संख्‍या में नवजात शिशुओं की मौत हो जाती है, क्योंकि इलाज के दौरान उन पर किसी भी प्रकार की एंटीबायोटिक दवा का असर ही नहीं होता है। फोटो साभार यूट्यूब

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :