हमारा सबसे प्राचीन पूर्वज है समुद्र का 'सैकोराइटस'

पुनः संशोधित मंगलवार, 31 जनवरी 2017 (13:20 IST)
बीजिंग। अनुसंधानकर्ताओं ने इंसानों के सबसे पुराने पुरा ऐतिहासिक पूर्वज के अस्तित्व संबंधी जानकारी खोज निकालने का दावा किया है। उनका कहना है कि में पाए जाने वाला यह सूक्ष्म, 54 करोड़ साल पहले हुआ करता था।
इस जीव का नाम है। यह नाम इसके दीर्घवृत्ताकार शरीर एवं बड़े मुंह से बनने वाली बस्ते जैसी आकृति के कारण पड़ा है। विज्ञान के लिए यह प्रजाति नई है और इसकी पहचान चीन में पाए गए सूक्ष्म अवशेषों से की गई थी।
 
ऐसा माना जा रहा है कि यह ड्यूटरोस्टोम का प्राचीनतम उदाहरण है। ड्यूटरोस्टोम एक विस्तृत जैविक श्रेणी है, जिसमें कई उप समूह हैं और इनमें कशेरूकी शामिल हैं।
 
ब्रिटेन की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी और चीन की नॉर्थवेस्ट यूनिवर्सिटी का कहना है कि सैकोराइटस प्रजातियों की व्यापक श्रेणी का साझा पूर्वज है और यह विकास पथ का पहला ज्ञात कदम है। इसके बाद ही विकास का क्रम धीरे-धीरे करोड़ों साल बाद आज के इंसान तक पहुंचा है।
 
कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर सिमॉन कोनवे मोरिस ने कहा, 'हमारा मानना है कि एक शुरूआती ड्यूटरोस्टोम के तौर पर यह विविध प्रजातियों की प्राचीन शुरूआत का प्रतिनिधित्व कर सकता है।'

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :