कैटरीना कैफ : नंबर वन हीरोइन

Katrina Kaif
IFM
बॉलीवुड में का पैमाना है सफल फिल्में। जिसकी जितनी ज्यादा सफल फिल्में, वो नंबरों की दौड़ में उतनी ही आगे। इस मापदंड के आधार पर कहा जा सकता है कि कैटरीना नंबर वन अभिनेत्री हैं।

उम्र कैटरीना के पक्ष में है साथ ही वे ऐसी अभिनेत्री हैं जो सलमान, अक्षय जैसे उम्रदराज स्टार्स से लेकर तो नील नितिन मुकेश और रणबीर कपूर जैसे नए नवेले नायकों के साथ काम कर सकती हैं।

बिपाशा बसु, ऐश्वर्या राय, रानी मुखर्जी, प्रीति जिंटा जैसी सशक्त अभिनेत्रियों की उम्र हो चली है। अब वे युवा नायकों के साथ कॉलेज जाने वाली स्टूडेंट की भूमिकाएँ नहीं कर सकतीं। इसलिए इन नायिकाओं से कैटरीना को कोई खतरा नहीं है। भले ही वे रानी या ऐश्वर्या जैसी सशक्त अभिनेत्री नहीं हैं, लेकिन स्टार वैल्यू और लोकप्रियता के मामले में कम नहीं हैं। जहाँ तक अभिनय का सवाल है तो कैट लगातार इस विधा में सुधार करती जा रही हैं।

जेनेलिया, असिन, सोनम कपूर, अनुष्का शर्मा जैसी नायिकाओं ने भले ही अपनी उपस्थिति दर्ज की हो, लेकिन इनमें अभी इतना दम नहीं है कि ये कैटरीना को चुनौती दे सकें।

कैटरीना का मुकाबला है प्रियंका चोपड़ा और करीना कपूर से। ये तीनों नायिकाएँ लगभग हमउम्र हैं। अभिनय के मामले में ये कैटरीना से आगे हैं, लेकिन ‘राजनीति’ या ‘अजब प्रेम की गजब कथा’ जैसी फिल्में कैटरीना को इनके समकक्ष ला सकती हैं।

समय ताम्रकर|
सफलता के नजरिए से देखा जाए तो प्रियंका की हाल ही में एक-दो फिल्में सफल हुई हैं। वहीं करीना के खाते में हिट फिल्मों की संख्या कम है। कैटरीना को चुनौती देने के लिए इन्हें लगातार सफल फिल्म देना होगी। फिलहाल तो दर्शकों के दिलों पर कैटरीना का राज है।


और भी पढ़ें :