Widgets Magazine

गर्भवती महिला फिर से हो गई गर्भवती

पुनः संशोधित मंगलवार, 14 नवंबर 2017 (17:10 IST)

कैलिफोर्निया। गर्भावस्था के दौरान एक महिला फिर से गर्भवती हो गई लेकिन दोनों बच्चों के पिता अलग-अलग हैं। बच्चों के जन्म के कुछ दिनों बाद इस बात का खुलासा हुआ कि दोनों बच्चों के प‍िता अलग-अलग हैं। इस कारण से अपने बच्चे की कस्टडी के ल‍िए मह‍िला को केस लड़ना पड़ा।
विदित हो कि महिला की कोख में पहले से ही एक बच्चा पल रहा था, फिर भी वह गर्भवती हो गई। डीएनए टेस्ट के बाद पता चला कि दूसरा बच्चा महिला का ही जैविक पुत्र है लेकिन उसे यह बच्चा कानूनी लड़ाई के बाद वापस मिल सका।

कैलिफोर्निया में रहने वाली जेसिका एलन नामक एक महिला प्रेग्नेंट थी। गर्भावस्था के दौरान वह फिर से गर्भवती हो गई। हालांकि ऐसा बहुत कम होता है लेकिन यह चमत्कार भी हो गया। शुरुआत में महिला समेत सभी डॉक्टरों का मानना था कि बच्चे जुड़वा हैं, लेकिन जन्म के कुछ दिनों बाद इस बात का खुलासा हुआ कि दोनों बच्चों के प‍िता अलग-अलग हैं।

जेसिका एलन ने एक चीनी कपल के खातिर सरोगेट मदर बनने के लिए तैयार हो गई थी और अप्रैल 2016 में डॉक्टरों ने आईवीएफ के जरिए भ्रूण विकस‍ित किया और फिर उसे एलन के यूट्रेस
(गर्भाशय) में इंप्‍लांट कर दिया। इस तरह एलन प्रेग्नेंट हो गई लेकिन प्रेग्नेंसी के छठे हफ्ते में उसे डॉक्टरों ने बताया कि उसकी कोख में जुड़वां बच्चे पल रहे हैं।

बच्चों के जन्म के एक महीने बाद एलन को पता चला कि दोनों बच्चे दिखने में एक जैसे नहीं हैं और फिर डीएनए टेस्ट में भी इस बात की पुष्टि हो गई कि एक एलन का बायलॉजिकल बच्चा है, जबकि दूसरा चीनी कपल का है। मेडिकल साइंस में इसे 'सुपरफिटेशन' कहा जाता है। महिला अगर प्रेग्नेंट रहते हुए फिर से प्रेग्नेंट हो जाए तो इसे सुपरफिटेशन कहा जाता है।
यह बहुत दुर्लभ होता है। एलेन के केस में शामिल रहीं निकलॉस चिल्ड्रेन हॉस्पिटल के फीटल केयर सेंटर की मेडिकल डायरेक्टर सायमा आफताब का कहना है कि ऐसा न के बराबर होता है। मेडिकल साइंस के इतिहास में अब तक सुपरफ‍िटेशन के बहुत ही कम मामले सामने आए हैं। दरअसल, शरीर में ऐसी कई चीजें होती हैं जो प्रग्नेंट महिला को प्रेग्नेंसी के दौरान फिर से प्रेग्नेंट होने से रोकती हैं।

शरीर में ऐसे हार्मोन बनते हैं, जिससे ओवरीज के अंडे ही रिलीज नहीं हो पाते हैं। वहीं एलन का कहना है कि उनके पहले से ही दो बच्चे थे। वह काम पर जाने के बजाय घर पर ही रहकर अपने दोनों बच्चों की देखभाल करना चाहती थीं। ऐसे में उनके पास सरोगेट मदर का प्रस्ताव आया जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया।

उनका कहना है कि जब चीनी कपल का बच्चा उनके पेट में था उस दौरान उन्होंने अपने साथी वार्डेल जैस्पर के साथ संबंध बनाए। फिर वह रूटीन चेकअप के लिए डॉक्टर के पास गईं तो उन्हें पता चला कि वे जुड़वा बच्चों की मां बनने वाली हैं। इस बात को सुनकर वह पहले तो डर गईं लेकिन चीनी कपल यह जानकर बेहद खुश हुआ कि उनके घर एक नहीं बल्कि दो-दो बच्चे आने वाले हैं। यही नहीं, चीनी कपल ने एलन की फीस भी बढ़ा दी।

जन्म के तुरंत बाद चीनी कपल बच्चों को अपने साथ ले गए। एलन बच्चों को देख तक नहीं पाईं। बाद में उन्होंने जब फोटो देखी तो उन्हें संदेह हुआ क्योंकि दोनों बच्चों की शक्ल एक दूसरे से जरा भी नहीं मिलती थी। लेकिन एलन चुप रहीं फिर कुछ दिनों बाद एलन को चीनी महिला का मैसेज आया कि दोनों बच्चे एक जैसे नहीं दिखते हैं। फिर बच्चों का डीएनए टेस्ट किया गया जिसमें यह पता चला कि एक बच्चा एलन और जैस्पर का है।

डीएनए टेस्ट के बाद चीनी कपल एलन के बच्चे को अपनाना नहीं चाहता था और हर्जाने के रूप में पैसे मांगने लगा। इतना सब कुछ काफी नहीं था कि बच्चे को किसी दूसरे को गोद देने की तैयारी होने लगी। चीनी कपल ऐसा कर सकता था क्योंकि वे ही बच्चे के कानूनी माता-पिता थे लेकिन आख‍िरकार कानूनी लड़ाई के बाद एलन को उनका बच्चा मिल गया। अब एलन पति और तीन बच्चों के साथ खुशी-खुशी रह रही हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :