केवल मुर्दों के लिए होटल

पुनः संशोधित शनिवार, 11 नवंबर 2017 (17:21 IST)

टोक्यो। विश्व के विकसित देशों में से एक जापान में हर साल लगभग 16 लाख लोगों की मौत होती है। इतनी ज्यादा मृत्युदर के कारण लोगों की मौत अब जापान में पैसे कमाने का जरिया बनता जा रहा है।
अब लाशों को ठिकाने लगाने या कुछ समय के लिए ‍शव को रखना भी एक बिजनेस में बदल गया है। शवों को इस कारोबार को चलाने वाले व्यक्ति का नाम है हिसायोशी तेरामुरा। यह जापान के योकोहामा शहर के रहने वाले हैं।

तेरामुरा ने एक ऐसा होटल खोला है, जहां पर सिर्फ मरे हुए लोगों को रखा जाता है। इनके होटल लास्टेल में मरे हुए व्यक्ति के शरीर को एक दिन रखने का किराया है 12000 येन।

हिसायोशी तेरामुरा इससे पहले कब्रों और शव गृह के बिजनेस से ही जुड़े हुए थे और पिछले साल इन्होंने अपने होटल को एक नूडल शॉप के सामने खोला था जिसमें सिर्फ मरे हुए लोगों को रखा जाता था।
तेरामुरा को इस बिजनेस का आइडिया इस वजह से आया क्योंकि जापान में मृत्यु दर तेजी से बढ़ रही है और इसके कारण यहां के श्मशान अक्सर शवों से भरे होते हैं।

इस कारण से बहुत से मृतकों के परिवारों को के लिए इंतजार करना पड़ता है और यह इंतजार 4 से 5 दिन लंबा भी हो सकता है।
इस प्रकार की परिस्थिति बनने पर मृतक के परिवार वाले अपने मृत व्यक्ति की बॉडी को मुर्दा लोगों के लिए बने इन होटलों में रख सकते हैं और शव को सड़ने से बचा सकते हैं।

इसके अलावा यदि किसी के घर में जगह की कमी है तब भी लोग मृतक के लिए इनके होटलों में जगह बुक करा देते हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :