हड्डी टूटने पर करते हैं स्कीइंग

पुनः संशोधित शुक्रवार, 29 दिसंबर 2017 (18:37 IST)

रोम। आम इंसान का चोट लगने पर हाल बेहाल हो जाता है पर इटली में एक ऐसा परिवार है जिसके सदस्यों की अगर ‍हड्‍डियां भी टूट जाएं जो उन्हें किसी प्रकार के दर्द का अनुभव नहीं होता है। बल्कि हड्‍डियां टूटने पर भी परिवार के लोग बर्फ से लदे पहाड़ों कर स्कीइंग का मजा लेते रहते हैं। हड्डी भी टूट जाए तो किसी को दर्द नहीं होता बल्कि वो करते हैं स्कीइंग।
इटली में एक परिवार ऐसा है जिसे चोट में दर्द का एहसास नहीं होता। इस परिवार में तीन पीढ़ियों के 6 सदस्य ऐसे हैं जिन्होंने कभी दर्द का अहसास नहीं किया है। इस परिवार में उनकी 78 वर्षीय नानी, उनकी दो बेटियां जो 50 और 52 साल की हैं और उन बेटियों के तीन 24, 21 और 16 साल के बच्चे शामिल हैं।

वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि उनकी इस अद्‍भुत क्षमता के चलते इस परिवार की मदद से दर्द निवारक दवा बनाई जा सकती है। सच तो यह है कि इस परिवार के लोगों को चोट लगने पर खुद दर्द बेचारा बेहाल हो जाता है क्योंकि परिवार के सदस्यों पर कोई असर नहीं होता।

इनमें से कुछ सदस्यों को गंभीर चोटें भी आई हैं, यहां तक कि हाथ-पैर भी टूटे हैं लेकिन इन्हें कभी कुछ महसूस नहीं हुआ। इतना ही नहीं एक बार परिवार की एक लड़की के कंधे की हड्डी टूट गई और उसे पता ही नहीं चला और वह स्की करती रही, फिर गाड़ी ड्राइव करके घर भी पहुंची।

दो दिन गुजरने पर भी उसे दर्द का अहसास नहीं हुआ। डॉक्टरों की मानें तो ये बीमारी एक जेनेटिक म्‍यूटेशन यानि आनुवंशिक उत्परिवर्तन के चलते हो सकती है। इस अजीबोगरीब स्थिति को चिकित्सकों ने परिवार के सरनेम के आधार पर मार्सीली सिंड्रोम नाम दिया है।

डॉक्टर इसे कनजेनिटल हायपॉलजेसिया से भी जोड़कर देख रहे हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि वे के सदस्यों की जांच करके उस जीन का पता लगाएंगे जिससे उन्हें दर्द का एहसास नहीं होता। उन्हें उम्मीद है कि इस जानकारी के बाद दर्द निवारक दवाएं बनाने में मदद मिल सकती है।

हालांकि डॉक्टर्स यह भी बता रहे हैं कि मार्सिली परिवार के कुछ लोगों ने 50 से 60 सेकंड के लिए ही दर्द का एहसास होने की बात कही है।


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :