ट्रंप ने किम जोंग को दिखाई अपनी कार, नहीं होगा रसायनिक हमले का असर, जानिए 'द बिस्ट' की खास बातें...

पुनः संशोधित मंगलवार, 12 जून 2018 (13:10 IST)
सिंगापुर। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के नेता को अपनी लिमोज़ीन कार 'द बीस्ट' का अंदर से दीदार कराया। दोनों नेता यहां कपेला होटल में ऐतिहासिक वार्ता के बाद गैलरी में टहल रहे थे तभी वे टहलते-टहलते आठ टन वजनी बुलेटप्रूफ लिमोज़ीन के पास पहुंचे। इस कार का नाम ‘द बीस्ट’ है।

ट्रंप ने सीक्रेट सर्विस एजेंट से गाड़ी का दरवाजा खोलने का इशारा किया। जब दोनों नेता खड़े बातें कर रहे थे तब किम मुस्कुरा रहे थे और फिर किम ने कार के अंदर झांककर देखा। अमेरिकी राष्ट्रपति की लिमोज़ीन ‘बीस्ट’ काडिल्लिक डीटीएस पर आधारित है।
इस कार में आठ इंच मोटा बख्तरबंद कवच है और इसकी खिड़कियां पांच इंच मोटी हैं जो राष्ट्रपति को रसायन हमले समेत किसी भी प्रकार के हमले से बचाती हैं। इसके दरवाजों का वजन बोइंग 757 विमान जितना है। कार के पहिए पंचर नहीं हो सकते। पहियों में लगी स्टील रिम की बदौलत टायर के क्षतिग्रस्त होने पर भी कार की रफ्तार कम नहीं होती। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :